Chand Dharti se kitna Dur hai

Chand Dharti se Kitna Dur Hai, चाँद और पृथ्वी के बीच की दुरी, धरती से चन्द्रमा कितना दूर है, चाँद से जुडी महत्वपूर्ण बाते, चाँद पर पहला कदम किसने रखा था, चाँद पर पहला कदम रखने वाली महिला, चाँद के विभिन्न नाम, चाँद हमारे चंदा मामा, किलोमीटर और मील क्या है

दोस्तों आज के लेख में हम Chand Dharti se Kitna Dur hai या Chand और Dharti के बीच की दुरी के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे।

Dharti से चाँद को देखने पर वो हमें बहुत है नज़दीक दिखाई देता है और उसी प्रकार तारे और सूर्य भी दिखाई देता है लेकिन वास्तविक रूप से यह हमारी धरती से बहुत दूर होते है, जिसके बारे में हम इस लेख में पढ़ेगे इसलिए इस लेख को अंतिम बिंदु तक जरूर पढ़ना।

चाँद धरती से कितना दूर है?

जब हम अपनी आँखो से धरती से चाँद की ओर देखते है तो ऐसा लगता है की चाँद धरती के बहुत ही पास में है, परन्तु ऐसा बिलकुल भी सही नहीं है क्योंकि हमारी धरती और चाँद के बीच में बहुत दुरी है।

वैज्ञानिक आकड़ो के अनुसार Chand Dharti Se करीब 384,403 KM की दूरी पर उपस्थित है।

और अगर इस दुरी का मापन मील में किया जाए तो चाँद और धरती के बीच की दुरी 238,857 मील होती है।

चाँद का वजन लगभग 81 अरब टन तक माना जाता है।

चाँद हमेशा धरती के चारो ओर परिक्रमा करता है इसलिए चाँद और धरती के बीच की दुरी के मापन को निश्चित करना मुश्किल होता है।

दोस्तों हम जानते है की चाँद हमारी धरती के चारो ओर चक्र लगाता है जिसके कारण से धरती पर दिन और रात होती है, लेकिन धरती पर उजाला और अंधेरा होने का कारण चाँद नहीं बल्कि सूर्य होता है।

इसका आसान सा कारण यह है की जब चाँद धरती और सूर्य के बीच में आ जाता है तब धरती पर रात होती है और जब यह बीच से हट जाता है तो उजाला होता है।

अगर धरती से देखा जाए तो चाँद का आकार गोल होता है लेकिन यह वास्तविक रूप में सही नहीं है क्योंकि चाँद का आकार अंडाकार होता है।

ये भी पढ़े:

मील क्या होता है?

मील किसी दुरी या लम्बाई को को मापने की एक इकाई होती है जिसकी मदद से लम्बी से लम्बी दुरी को मापना आसान हो जाता है।

एक मील की लम्बाई 5280 फीट के बराबर होती है, और अगर इसको गज में मापे तो 1760 गज के बराबर होती है।

मील को मापन की सबसे बड़ी इकाई माना जाता है जिसका उपयोग आमतौर पर दो बिंदुओं के बीच की दूरी को मापने के लिए किया जाता है।

किलोमीटर क्या है?

मील से कम दुरी को मापने के लिए किलोमीटर का उपयोग किया जाता है और इसके साथ ही हम मीटर का भी उपयोग करते है।

एक किलोमीटर की दुरी एक हजार मीटर के बराबर होती है और 0.6214 मील की दुरी एक किलोमीटर के बराबर होती है।

चाँद तक पहुचने में कितना समय लगता है?

धरती से चाँद तक जाने के लिए कितना समय लगता है यह उस विमान या सेटेलाइट पर निर्भर करता है जिसमे आप यात्रा कर रहे है।

क्योंकि हर विमान और सेटेलाइट की स्पीड और क्षमता अलग-अलग होती है जो समय को निर्धारित करता है।

अगर पुराने रिकॉर्ड को देखे तो पृथ्वी से चंद्रमा पर भेजे गए ESA स्मार्ट-1 विमान को चाँद तक पहुंचने में सबसे ज्यादा समय लगा था, जिसमे उस विमान को चंद्रमा पर पहुंचने में लगभग एक साल, दो महीने और दो सप्ताह लगाया था।

लेकिन आज के समय में ऐसे भी विमान है जो बहुत कम समय में चन्द्रमा पर जाकर आहे है जिसमे नासा का न्यू होरिजन विमान शामिल है जिसने चाँद पर जाने के लिए 8 घंटे और 35 मिनट का सफर तय किया था, जो की अन्य विमान से बहुत कम था।

चाँद की महत्वपूर्ण जानकारी
चाँद की महत्वपूर्ण जानकारी

चंद्रमा से जुडी कुछ महत्वपूर्ण बाते

अगर हम धरती से चाँद को देखे तो उसकी रोचनी बड़ी ही सुन्दर होती है इसलिए चाँद सबको प्यारा होता है, लेकिन चाँद न केवल चाँदनी बिखेरता है बल्कि उससे जुड़े काफ़ी रोचक और महत्वपूर्ण तथ्य है।

आज हम इस भाग में चाँद के तीन सबसे महत्वपूर्ण तथ्य के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे।

Youtube Video: Chand Dharti se Kitna Dur Hai

YouTube video
Chand Dharti se Kitna Dur Hai Video

चाँद पर पहला कदम किसने रखा 

सन 1969 में अपोलो 11 वह पहला यान था जो चाँद की धरती पर मानव सहित पंहुचा था, जिसमे आर्मस्ट्रांग, माइकल कॉलिंस, बज़ एल्ड्रिन कमांडर उपस्थित थे।

चाँद पर पहला कदम आर्मस्ट्रांग और दूसरा कदम बज़ एल्ड्रिन ने रखा था, और माइकल कॉलिंस जो चंद्रमा की कक्षा में चक्कर लगाते समय उसी यान में ही बैठे रहे थे।

चाँद का धार्मिक महत्व 

चाँद के साइंटिस्ट रूप से भी कई महत्वपूर्ण तथ्य है लेकिन उसके साथ ही इसके धार्मिक महत्व भी माने जाते है।

भारत में चाँद की हिन्दू धर्म में पूजा की जाती है, जिसमे करवाचौथ, गुरु पूर्णिमा, प्रतिमाह आने वाली चतुर्थी जैसे दिनों परचंद्रमा का पूजन किया जाता है।

चन्द्रमा का पौराणिक कथाओं में बहुत जगह पर वर्णन किया गया है, जिसमे चाँद को चंद्र देवता के नाम से भी बुलाया जाता है।

जब रात्रि में चन्द्रमा अपनी पूर्ण स्वरुप या पूर्ण स्थति में आता है तो उस रात्रि को पूर्णिमा कहा जाता है, और जब चाँद रात्रि लुप्त हो जाता है तो उसे अमावस्या की रात कहा जाता है।

चंद्रमा को चंदा मामा क्यों कहते है?

चाँद और उसकी रोशनी देखने में बहुत ही अधिक आकर्षक होती है जिससे बच्चे भी इसे देख मंत्रमुग्ध हो जाते हैं, इसलिए चाँद को बच्चों द्वारा चंदा मामा कहकर बुलाया जाता है। बच्चे चाँद को चलने वाले मामा मानते है उनके अनुसार जब बच्चे गाड़ी पर कहीं जाते हैं तो कहते ही हैं कि चाँद भी हमारे साथ साथ चल रहा है।

इन तथ्य पर चाँद से जुड़ी एक poem भी है जिसे हर घर में बच्चो द्वारा गुनगुनाया जाता है।

चंदामामा दूर के,पुआ पकाया बूर के |

तुम खाएं थाली में, मुन्ने को दें प्याली में ||

Chand ke kitne Naam hai
Chand ke kitne Naam hai

चंद्रमा के कितने नाम होते है?

ऐसा माना जाता है की हिन्दू धर्म में चंद्रमा के 111 ऐसे नाम, जिनके जप करने से कुंडली के चंद्र दोष समाप्त होते हैं और चंद्र से संबंधित बीमारी को ठीक करने में इसको महत्वपूर्ण माना जाता है।

लेकिन मन का विश्वास बढ़ाने में भी यह चाँद के नाम कारगर है क्योंकि चंद्र मन का कारक ग्रह होता है।

  1. ॐ श्रीमते नमः।
  2. ॐ शशधराय नमः।
  3. ॐ चन्द्राय नमः।
  4. ॐ ताराधीशाय नमः।
  5. ॐ निशाकराय नमः।
  6. ॐ स्वप्रकाशाय नमः।
  7. ॐ प्रकाशात्मने नमः।
  8. ॐ द्युचराय नमः।
  9. ॐ देवभोजनाय नमः
  10. ॐ कलाधराय नमः।

ये भी पढ़े…

FAQs: Chand Dharti se Kitna Dur hai से संबधित 

चाँद धरती से कितना ऊपर है?

अंतरिक्ष शोध कर्ताओं के अनुसार चांद की धरती से दूरी 384,403 किलोमीटर है, इसका मील में मापन 238,857 मील होता है।

अंतरिक्ष में जाने वाली पहली महिला का नाम क्या है?

सन 1963 को अंतरिक्ष में पहली महिला, सोवियत कॉस्मोनॉट वेलेंटीना टेरेशकोवा ने उड़ान भरी थी। लेकिन 1980 के दशक के बाद अंतरिक्ष उड़ान कार्यक्रमों महिलाओं को शामिल नहीं किया गया।

सूर्य की दूरी कितनी है?

सौर मंडल का सबसे बड़ा पिंड सूर्य को माना जाता है और पृथ्वी और सूर्य की औसत दूरी 15 करोड़ किलोमीटर है।
सूर्य का व्यास लगभग 13 लाख 90 हज़ार किलोमीटर होता है जो पृथ्वी से लगभग 109 गुना बड़ा है।

चंद्रमा की अंतिम यात्रा कब हुई थी?

चंद्रमा पर अंतिम यात्रा मानव मिशन अपोलो 17 यान में की गई थी, यह 12 दिनों का अभियान था जो 7 और 19 दिसंबर 1972 के बीच हुआ था।
उस समय इस mission ने कई रिकॉर्ड तोड़े दिए थे जिसमे यह यान सबसे लंबी स्पेस वॉक, सबसे लंबी चंद्र landing और सबसे बड़े चंद्र नमूने लेकर पृथ्वी पर वापस आया था।

सूरज चांद से कितना बड़ा है?

सूरज का आकार 1.4 मिलियन किलोमीटर होता है, जबकि चाँद का आकार 384, 403 लाख किलोमीटर है अर्थात सूरज चंद्रमा से लगभग 400 गुना बड़ा है।

निष्कर्ष: चाँद की धरती से दूरी कितनी है?

Chand Dharti se Kitna Dur Hai में हमने चाँद और धरती के बीच की दुरी, चाँद पर कदम किसने रखा था , चाँद के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त की है।

दोस्तों आज हमने चन्द्रमा के 111 नामो के बारे में पढ़ा और उसका हमारे लिए क्या महत्व है उसको भी अच्छी तरीके से समझा है।

मित्रो हम आशा करते है की Chand Dharti se kitna dur hai के बारे में जानने के लिए आपको कोई समस्या नहीं हुई होंगी और आज के आर्टिकल में आपको Chand और Dharti के बीच की दुरी में कोई डॉउट नहीं रहा होगा।

यह पोस्ट आपके लिए कितना उपयोगी है?

निचे स्टार⭐ पर क्लिक कर के अपना रेटिंग दे!

इस पोस्ट की औसत रेटिंग है: 5 / 5. अभी तक कितना लोग वोट किये है: 782

अभी तक कोई वोट नहीं! सबसे पहले आप वोट कीजिये!

जैसा की आपको यह पोस्ट उपयोगी लगा...

सोशल मीडिया पर, हमारे दोस्त बनिए!

हमें बेहद खेद है की आपको यह पोस्ट पसंद नहीं आया!

इस पोस्ट को और भी बढ़िया बनाने में हमारी सहायता कीजिये!

हमें बताईये, हम इसे कैसे और बढ़िया बनाये!

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *