Virtual Assistant Bankar Paise Kaise Kamaye

Virtual assistant bankar paise kaise kamaye या वर्चुअल असिस्टेंट बनकर पैसे कैसे कमाए, virtual assistant क्या है, virtual assistant की job कैसे पाए, virtual assistant jobs online, virtual assistant jobs, वर्चुअल असिस्टेंट कौन- कौन बन सकता है, वर्चुअल असिस्टेंट बनने का तरीका, types, फायदे, services क्या हैं।

दोस्तों हमारे ब्लॉग के आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि वर्चुअल असिस्टेंट बनकर पैसे कैसे कमाए, वर्चुअल असिस्टेंट क्या है और साथ ही में हम आपको वर्चुअल असिस्टेंट के विषय से जुड़ी हुई सारी जानकारी भी देंगे। इस कोरोना के समय में बहुत से लोग वर्क फ्रॉम होम जॉब ढूंढ रहे हैं और ऐसे में क्या आप भी घर बैठे-बैठे पैसे कमाना चाहते हैं? 

तो आपको केवल हमारे ब्लॉग के इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ना होगा और हमारा आपसे यह वादा है कि इस आर्टिकल या लेख को पढ़ने के बाद आपको वर्चुअल असिस्टेंट से जुड़ी हुई जानकारी के लिए कहीं और जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी, लेकिन वर्चुअल असिस्टेंट बनके घर बैठे पैसे कैसे कमाए और वर्चुअल असिस्टेंट क्या है। 

Virtual assistant शब्द सबसे पहले 1990 में इस्तेमाल किया गया था और यह बहुत ही सरल इंटरनेट की जॉब है, जिसका इस्तेमाल आजकल कई freelancing की वेबसाइट पर होने लगा है और कई लोग इस जॉब की मदद से महीने के 40 हजार रुपए से भी ज्यादा कमा रहे हैं और आप भी कमा सकते हैं।

तो क्या आप इस बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करने या पाने करने के लिए तैयार हैं, कि वर्चुअल असिस्टेंट बनकर पैसे कैसे कमाए।

वर्चुअल असिस्टेंट बनकर पैसे कैसे कमाए
virtual assistant jobs online

Post Contents:

वर्चुअल असिस्टेंट बनकर पैसे कैसे कमाए? | virtual assistant jobs online

आप में से कई लोगों ने यह सवाल Quora, गूगल, आदि वेबसाइट्स और सर्च इंजन पर पूछा है कि वर्चुअल असिस्टेंट बनकर पैसे कैसे कमाए और यह काम बाकी कामों के मुकाबले ज्यादा नया है, इसकी वजह से बहुत ही कम लोगों को इस जॉब अपॉर्चुनिटी और फील्ड के बारे में जानकारी है। 

लेकिन आप वर्चुअल असिस्टेंट बनकर दो तरीकों से पैसा कमा सकते हैं, पहले तरीके में आप खुद की एजेंसी खोल सकते हैं और दूसरों की मदद करते हुए पैसा कमा सकते हैं और दूसरे तरीके में आप फ्रीलांसर वेबसाइट पर जाकर एक वर्चुअल असिस्टेंट की जॉब ढूंढ सकते हैं और उसके लिए अप्लाई कर सकते हैं।

बहुत से लोग दूसरे ऑप्शन का इस्तेमाल करते हैं, क्योंकि वह ज्यादा आसान होता है। हालांकि जब आप एक एजेंसी खोलते हैं, तो आपको लोगों को हायर करना पड़ता है और तनखा या वेतन देनी पड़ती है। जबकि एक फ्रीलांसिंग वेबसाइट पर जाकर आपको केवल रजिस्टर करना होता है और gigs ढूंढनी पड़ती है, जो करने के कुछ समय बाद आपको प्रोजेक्ट मिलना शुरू हो जाते हैं और आप पैसा कमाना शुरू कर देते हैं।

तो ऐसे में बहुत से लोग Fiverr की वेबसाइट का इस्तेमाल करते हैं, क्योंकि वह हाल की हाल पैसा कमाना चाहते हैं और एक एजेंसी खोलकर बिजनेस शुरू करना नहीं चाहते हैं और ऐसी वेबसाइट पर आप मिनिमम 5 डॉलर से शुरू होकर 10 हजार डॉलर से भी ज्यादा कमा सकते हैं।

क्योंकि फाइबर एक बहुत ही ज्यादा पॉपुलर वेबसाइट है और इसका इस्तेमाल कई फ्रीलांसर करते हैं और आसानी से घर बैठे बैठे महीने के 30 से 40 हजार  कमा रहे हैं, अगर आप फाइबर से जुड़ी हुई जानकारी पढ़ना चाहते हैं। तो आप हमारी वेबसाइट पर फाइबर से जुड़ा फाइबर से जुड़ा आर्टिकल भी पढ़ सकते हैं। 

आप बाकी फ्रीलांसिंग की वेबसाइट पर वर्चुअल असिस्टेंट बनकर लगभग 10 हजार रुपए से लेकर 50 हजार रुपए तक भी कमा सकते हैं, लेकिन यह फ्रीलांसिंग की websites कौन सी हैं।

अब आपको पता चल गया होगा कि वह कौन सी वेबसाइट्स हैं, जिनपर पर आप वर्चुअल असिस्टेंट बनकर 10 हजार से लेकर 50 हजार रुपए तक भी कमा सकते हैं। आशा करते हैं कि अब आपको अपने सवाल का जवाब मिल गया होगा कि वर्चुअल असिस्टेंट बनकर पैसे कैसे कमाए, लेकिन यह वर्चुअल असिस्टेंट क्या होता है।

Virtual Assistant क्या है? | What is Virtual Assistant

वर्चुअल असिस्टेंट एक आम असिस्टेंट की तरह ही होता है, जो आपकी मीटिंग और सोशल मीडिया अकाउंट को हैंडल करता है। लेकिन वर्चुअल असिस्टेंट अपने घर से ही यह काम करता है, मतलब की चाहे आप भारत में रह रहे हों और आपका वर्चुअल असिस्टेंट बांग्लादेश में, आप फिर भी उससे अपना सारा काम करवा सकते हैं और वह यह काम करके पैसे कमा सकता है।

तो ऐसे में वर्चुअल असिस्टेंट बड़े-बड़े celebrities और कंटेंट क्रिएटर्स का काम देखते हैं और उनकी मीटिंग, सोशल मीडिया अकाउंट और interviews को हैंडल करते हैं, ताकि उन्हें यह काम ना करना पड़े और वह उनसे जुड़े हुए ई-मेल का भी जवाब देते हैं और ऐसे में फेमस लोगों के पास बाकी जरूरी कामों के लिए टाइम बच जाता है और उन्हें यह छोटे-छोटे काम नहीं देखने पड़ते हैं। 

जो कि एक वर्चुअल असिस्टेंट या पर्सनल असिस्टेंट करने में माहिर होता है, अगर आप में या क्षमता है और आप रूटीन बनाने में या छोटे कामों में एक माहिर इंसान हैं, तो आप बहुत ही आसानी से वर्चुअल असिस्टेंट बन कर घर बैठे-बैठे पैसा कमाना शुरू कर सकते हैं। लेकिन वर्चुअल असिस्टेंट कैसे बन सकते हैं और वर्चुअल असिस्टेंट बनने का तरीका क्या है।

Virtual Assistant बनने का तरीका क्या होता है
Virtual Assistant बनने का तरीका क्या होता है?

Virtual Assistant बनने का तरीका क्या होता है? | How to become Virtual Assistant

वर्चुअल असिस्टेंट बनने के लिए आपने में रूटीन बनाने की क्षमता, सोशल मीडिया अकाउंट को हैंडल करने की और बाकी छोटे कामों को करने की स्किल होनी चाहिए, अगर आपने यह ‘talent’ है, तो आप इस काम में एक एक्सपर्ट बनने की कोशिश कर सकते हैं, जैसे कि अगर आप किसी के सोशल मीडिया अकाउंट को हैंडल करना चाहते हैं।

तो आपको सबसे पहले उस फील्ड से जुड़ी हुई कुछ जानकारी पानी होगी, जैसे कि सोशल मीडिया अकाउंट आखिर क्या होता है और यह अकाउंट कैसे काम करता है। जब आपको उस फील्ड से जुड़ी हुई जानकारी होगी, तो आपको नौकरी मिलने में ज्यादा आसानी होगी और लोग आपके पर ज्यादा भरोसा करेंगे। 

साथ ही में आपको ऑनलाइन  अपडेटेड भी रहना होगा और वर्चुअल असिस्टेंट से जुड़े हुए कामों को करते रहना होगा, क्योंकि आजकल हर फील्ड में वर्चुअल असिस्टेंट की जरूरत पड़ ही जाती है और आजकल वर्चुअल assistants की डिमांड भी बहुत ज्यादा बढ़ गई है, लेकिन वर्चुअल असिस्टेंट बनने के बाद आपको क्या काम करने पड़ते हैं।

Virtual Assistant क्या काम करते हैं?

वर्चुअल असिस्टेंट बनकर पैसे कैसे कमाए के इस भाग में हम आपको बताएंगे कि वर्चुअल असिस्टेंट बनके आपको क्या काम करने पड़ते हैं और वर्चुअल असिस्टेंट में आपको किसी इंसान का पर्सनल असिस्टेंट बनना पड़ता है, जिसमें आप उस कंपनी के लीडर से जुड़े हुए सारे काम करते हैं, जैसे कि दूसरे लोगों को फोन करना, डाटा एंट्री करना, मार्केटिंग एनालिसिस, ईमेल हैंडलिंग, बिजनेस रिसर्च, वर्चुअल कंटेंट राइटिंग और भी कई काम जो कि आप दूसरे लोगों के लिए करते हैं।

जैसे ही कोई अपॉइंटमेंट आती है, तो यह आपकी जिम्मेदारी होती है कि वह ढंग से हैंडल हो और क्लाइंट को कोई भी दिक्कत ना आए, तो ऐसे में वर्चुअल असिस्टेंट बनने का काम बिल्कुल भी सरल नहीं है। लेकिन अगर आप में इस चीज का टैलेंट है, तो आप वर्चुअल असिस्टेंट बनकर घर बैठे कर अच्छा खासा पैसा कमा सकते हैं, लेकिन कौन-कौन वर्चुअल असिस्टेंट बन सकता है और वर्चुअल असिस्टेंट बनने के लिए आपको क्या करना होगा।

Virtual Assistant कौन-कौन बन सकता है? 

वर्चुअल असिस्टेंट बनने के लिए आपको किसी भी डिग्री की जरूरत नहीं है, तो चाहें आप हाउसवाइफ हो, रिटायर्ड इंसान हो या फिर स्टूडेंट हों या आप कोई पार्ट टाइम जॉब ढूंढ रहे हों या फिर  केवल इस काम का अनुभव लेना चाहते हों, आप बहुत ही आसानी से वर्चुअल असिस्टेंट बन सकते हैं। 

इस काम को करने के लिए आपको केवल इंटरनेट की जरूरत पड़ेगी और यह काम आप अपने घर पर बैठकर भी कर सकते हैं, तो अगर आप जॉब करते हैं या फिर बिजनेस करते हैं और अपने खाली समय का इस्तेमाल करना चाहते हैं। तो आप ऑनलाइन वर्चुअल असिस्टेंट का काम ढूंढ सकते हैं और दूसरों की सहायता करके पैसा कमा सकते हैं, वह भी अपने घर में बैठे-बैठे। 

लेकिन वर्चुअल असिस्टेंट बनने के फायदे क्या हैं और यह जॉब इतनी ज्यादा डिमांड में क्यों है।

Virtual Assistant बनने के फायदे क्या हैं? 

वर्चुअल असिस्टेंट का काम करने में कई फायदे हैं और यह जॉब आजकल बहुत ही ज्यादा डिमांड में है, तो आप अपनी सहूलियत के हिसाब से यह देख सकते हैं कि आपको किस कंपनी के लिए या फिर किस इंसान के लिए काम करना है और इस फील्ड में जॉब अपॉर्चुनिटी बढ़ती ही जा रही है और जैसे-जैसे नई कंपनियां खुल रही हैं।

वैसे ही वर्चुअल असिस्टेंट बनने के लिए मौके भी बढ़ते जा रहे हैं और इस फील्ड में पेआउट भी बहुत अच्छा है। तो अगर आप एक ऐसी नौकरी ढूंढ रहे हैं, जहां पर आपको घर बैठे एक अच्छी खासी इनकम मिल सकती है, तो वर्चुअल असिस्टेंट एक बहुत बढ़िया ऑप्शन हो सकता है। 

क्योंकि यह काम करने में आपके ऊपर किसी भी प्रकार का कोई भी दबाव नहीं होता है और ना ही आपको कोई डेडलाइन पूरी करनी पड़ती है। यहां पर आपको लोगों की जिंदगी को मैनेज करना पड़ता है लेकिन वर्चुअल असिस्टेंट के तौर पर अपना खुद का बिजनेस शुरू करने का तरीका क्या है।

Virtual Assistant का बिजनेस कैसे शुरू करें? | virtual assistant की job कैसे पाए

वर्चुअल असिस्टेंट या फिर पर्सनल असिस्टेंट का बिजनेस शुरू करने के लिए, सबसे पहले तो आपको अपने खुद की एक डिजिटल एजेंसी खोलनी होगी और फिर आपको clients को अप्रोच करना होगा और उनको अपने काम के अनुभव और नॉलेज के बारे में जानकारी देनी होगी और जैसे-जैसे आप क्लाइंट्स बढ़ाते जाएंगे।

वैसे ही आप दूसरे लोगों को काम पर भी रख सकते हैं और अपनी कंपनी को बड़ा कर सकते हैं और आजकल डिजिटल एजेंसीज की डिमांड भी बहुत ज्यादा बढ़ गई है, क्योंकि हर इंसान पॉपुलर बनता जा रहा है और लोग अपने कामों के लिए ऐसी डिजिटल एजेंसीज को ढूंढ रहे हैं, जो उनका सोशल मीडिया मैनेज करने से लेकर बाकी सारे काम कर सकती हैं।

तो अगर आप एक छोटी सी इन्वेस्टमेंट लगाकर यह काम शुरू कर सकते हैं और आप में यह काम करने का हुनर है, तो आप बहुत ही आसानी से वर्चुअल असिस्टेंट बनकर एक एजेंसी खोल सकते हैं और अपने साथ में दूसरे लोगों को भी काम दिलवा सकते हैं और यह विकल्प थोड़ा ज्यादा कठिन होता है।

क्योंकि freelancing की वेबसाइट में आपको कोई भी इन्वेस्टमेंट नहीं करनी पड़ती है, जबकि वर्चुअल असिस्टेंट की एजेंसी को खोलने के लिए आपको कई चीजों की जरूरत पड़ती है, जैसे कि लैपटॉप या पीसी और कुछ एंप्लाइज। लेकिन जैसे-जैसे आप की रैंकिंग बढ़ती जाएगी, तो लोग आपको एक trusted वर्चुअल असिस्टेंट के नाम से जानने लगेंगे और फिर आप बहुत ज्यादा पैसा कमा सकेंगे।

जो कि एक फ्रीलांसिंग की वेबसाइट से आप नहीं कमा सकते हैं, लेकिन वर्चुअल असिस्टेंट कितने प्रकार या type के होते हैं।

Virtual Assistant कितने प्रकार के होते हैं?

वर्चुअल असिस्टेंट बनकर पैसे कैसे कमाए के इस भाग में हम आपको बताएंगे कि वर्चुअल असिस्टेंट कितने टाइप के होते हैं और वर्चुअल असिस्टेंट असलियत में तीन प्रकार के होते हैं।

  • एडमिन सपोर्ट वर्चुअल असिस्टेंट
  • E-commerce वर्चुअल असिस्टेंट
  • डाटा एंट्री और वेब रिसर्च वर्चुअल असिस्टेंट

एडमिन सपोर्ट वर्चुअल असिस्टेंट वह होते हैं, जो शेड्यूलिंग और सेटिंग का काम करते हैं। जैसे कि अपॉइंटमेंट सेट करने का काम, मीटिंग का समय फिक्स करना और साथ ही में सोशल मीडिया अकाउंट, जैसे कि जीमेल, फेसबुक, व्हाट्सएप, इंस्टाग्राम, टि्वटर, आदि को हैंडल करना और यह देखना कि क्लाइंट के पास जरूरी कामों के लिए समय बच रहा है।

ईकॉमर्स वर्चुअल असिस्टेंट के तौर पर आप अमेजॉन, फ्लिपकार्ट, शोपीफाई, आदि में बेसिक कामों को करते हैं। जैसे कि प्रोडक्ट्स को लिस्ट करना, प्रोडक्ट हंटिंग और प्रोसेसिंग के साथ में कभी कस्टमर सपोर्ट से जुड़े हुए सवालों का जवाब देना और लोगों की सहायता करना। 

डाटा एंट्री और वेब रिसर्च वर्चुअल असिस्टेंट बनकर आप डाटा को हैंडल करते हैं और वेबसाइट से जुड़े हुए कीवर्ड्स को रिसर्च करते हैं और ज्यादातर काम डाटा लिखने या एंट्री के या फिर रिसर्च करने का ही रहता है।

जब बात वर्चुअल असिस्टेंट की आती है, तो आपका कोई निर्धारित काम नहीं होता है। वह कंपनी या फिर क्लाइंट जो भी काम आपको बता देता है, वह आपका काम बन जाता है और उस काम को पूरा करना ही आपकी जॉब होती है। मतलब कि जब किसी क्लाइंट के पास ज्यादा समय नहीं बचता है, तो वह आपको एक रूटीन बनाने को बोलते हैं।

तो ऐसे में वही आपका काम बन जाता है, क्योंकि वर्चुअल असिस्टेंट का काम क्लाइंट की जिंदगी को ज्यादा आसान करना होता है और हर क्लाइंट की कठिनाइयां अलग-अलग होती है। तो ऐसे में वर्चुअल असिस्टेंट के काम में कोई निर्धारित काम या फिर स्पेसिफिक कार्य नहीं होता है। 

मान लीजिए की आप किसी बड़े सेलिब्रिटी या फिर नामी Youtuber के वर्चुअल असिस्टेंट हैं, तो ऐसे में अगर उनके पास अपने फैंस के सवालों के जवाब देने का समय नहीं है, तो आप वह काम उनके लिए कर सकते हैं और वही आपका बिजनेस बन जाता है। 

आशा करते हैं कि अब आपको समझ में आ गया होगा कि वर्चुअल असिस्टेंट कितने प्रकार के होते हैं और वर्चुअल असिस्टेंट का काम आखिर क्या होता है, लेकिन वर्चुअल असिस्टेंट बनने के बाद आप लोगों को क्या services दे सकते हैं या फिर उनके कौन से काम पूरे कर सकते हैं।

Virtual Assistant बनकर क्या Services दी जाती हैं?
Virtual Assistant बनकर क्या Services दी जाती हैं?

Virtual Assistant बनकर क्या Services दी जाती हैं?

वर्चुअल असिस्टेंट बनने के बाद आपको यह देखना होगा कि आप अपने क्लाइंट को क्या सर्विसेज दे सकते हैं और वर्चुअल असिस्टेंट बनने के बाद जो सर्विसेज दी जाती हैं, वह यह हैं–

वर्चुअल असिस्टेंट बनकर कंटेंट बनाइए 

वर्चुअल असिस्टेंट बनने के बाद आपको अपने क्लाइंट के लिए किसी दिए गए टॉपिक के बारे में पूरी जानकारी देनी पड़ती है और कई बार सोशल मीडिया अकाउंट पर पोस्ट करने के लिए कंटेंट भी बनाना पड़ता है। 

वर्चुअल असिस्टेंट बनकर ईमेल मैनेजमेंट कीजिए 

जैसे ही आप वर्चुअल असिस्टेंट बन जाते हैं, तो कई क्लाइंट आपसे अपना ईमेल हैंडल करने को भी कह सकते हैं। क्योंकि जब भी कोई दूसरी कंपनी या फिर बिजनेस से जुड़ा हुआ इंसान आपके क्लाइंट को ईमेल करता है, तो उसका रिप्लाई भी आपको देना पड़ता है, अगर कोई मीटिंग बनती है, तो आपको ही उसका समय निर्धारित करके उस इंसान को जवाब देना पड़ता है।

Virtual Assistant बनकर सोशल मीडिया मैनेज कीजिए 

आजकल वर्चुअल असिस्टेंट की एजेंसी यह काम कर रही है, जिसमें वह क्लाइंट के फेसबुक, टि्वटर, इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया के अकाउंट को मैनेज करती हैं और पोस्ट डालने का काम करती है और साथ ही में जब लोग उनकी पोस्ट पर कमेंट करते हैं, तो उनको रिप्लाई देने का और उनकी बात अपने क्लाइंट तक पहुंचाने का काम भी आपका होता है।

वर्चुअल असिस्टेंट बनकर वेबसाइट डिजाइन और मेंटेनेंस करिए

वेबसाइट डिजाइन और मेंटेनेंस वर्चुअल असिस्टेंट के तौर पर आप वेबसाइट के एडमिन द्वारा बताई गई पोस्ट को डालते हैं और वेबसाइट को डिजाइन करने का काम भी आपको होता है, जैसे कि template सेट करना, होम पेज बनाना और यह चेक करना कि उस टेम्पलेट पर सारी चीजें ढंग से काम कर रही है या नहीं। साथ ही में उस वेबसाइट के सारे कामों को मैनेज करने की जिम्मेदारी भी आपकी होती है। 

Virtual Assistant बनकर ग्राफिक डिजाइन कीजिए 

ग्राफिक डिजाइनर के तौर पर आप क्लाइंट से लिए गए ग्राफिक्स को डिजाइन करते हैं और यहां पर आप 2D, 3D या फिर कोई भी ग्राफिक को डिजाइन कर सकते हैं। जिस चीज की क्लाइंट को जरूरत है और इसके लिए आपको यह ग्राफिक डिजाइनिंग का काम ढंग से आना चाहिए। 

वर्चुअल असिस्टेंट बनकर कस्टमर सपोर्ट दीजिए

कस्टमर सपोर्ट में आप कस्टमर केयर executive बनते हैं और लोगों की परेशानियों के जवाब देते हैं और किसी भी ब्रांड या फिर कंपनी से जुड़े बातों का ध्यान रखते हैं और हर कस्टमर की जरूरतों को पूरा करने का काम आपका ही होता है।

वर्चुअल असिस्टेंट बनकर वीडियो एडिटिंग करिए 

वीडियो एडिटिंग के वर्चुअल असिस्टेंट बनकर आप क्लाइंट को कई तरह की सर्विसेज देते हैं, जैसे कि उनकी बनाई गई वीडियोस को edit करने का काम और साथ ही में वीडियो में एनिमेशन डालने का  या फिर VFX डालने का काम भी कर सकते हैं। 

आशा करते हैं कि अब आपको समझ में आ गया होगा कि वर्चुअल असिस्टेंट बनने के बाद आप लोगों को क्या सर्विस दे सकते हैं या फिर उनके क्या काम कर सकते हैं, लेकिन एक बढ़िया वर्चुअल असिस्टेंट बनने के लिए आप में क्या गुण होने चाहिए।

एक अच्छा Virtual Assistant बनने के लिए आप में क्या गुण होने चाहिए? 
एक अच्छा Virtual Assistant बनने के लिए आप में क्या गुण होने चाहिए? 

एक अच्छा Virtual Assistant बनने के लिए आप में क्या गुण होने चाहिए? 

अगर आप एक बढ़िया वर्चुअल असिस्टेंट बनना चाहते हैं, तो आप में यह योग्यताएं होना बहुत ही ज्यादा जरूरी है और एक बेहतरीन पर्सनल असिस्टेंट या वर्चुअल असिस्टेंट बनने के लिए आप में यह 5 गुण होने ही चाहिए। 

1. ढंग से बोलने का तरीका (बढ़िया communication स्किल्स): 

वर्चुअल असिस्टेंट बनने के लिए सबसे पहली बात तो आपको यह ध्यान रखनी होगी कि आपको एक अच्छे कम्युनिकेटर बनना होगा, क्योंकि अगर आपकी कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छी नहीं है, तो आप लोगों के साथ कनेक्शन नहीं बना पाएंगे और एक असिस्टेंट बनने के लिए लोगों से कम्युनिकेट करना बहुत ही ज्यादा जरूरी होता है, ताकि वह आपकी बात को ढंग से समझ सके।

2. किसी भी सिचुएशन को संभालना (adoption का attitude): 

जैसा कि आपको पता चल ही गया होगा कि वर्चुअल असिस्टेंट की जॉब दूसरी jobs से मुकाबले थोड़ी अलग होती है, क्योंकि यहां पर आपका कोई specific काम नहीं होता है, ऐसे में क्लाइंट को जो भी दिक्कतें आती हैं। उन को हल करने का काम ही आपका बिजनेस होता है और इसी वजह से चीजों को नई अपनाना पड़ता है और अलग-अलग क्लाइंट के साथ अलग अलग तरीके से डील करना पड़ता है।

3. आपमें जूनून होना चाहिए (passion): 

वर्चुअल असिस्टेंट बनने के लिए आपको इस काम के लिए पैशनेट रहना होगा और यह काम करने का आपका अंदर से बंद मन होना चाहिए, तभी आप इस फील्ड में successful हो सकेंगे और पैसा कमा सकेंगे।

4. आपको ईमानदार बनना होगा (honesty): 

जैसा कि आपको मालूम होगा कि कई जॉब्स में लोग दूसरों की चापलूसी करते हैं और यह सोचते हैं, कि अगर वह सामने वाले इंसान की झूठी तारीफ कर देंगे तो उनको प्रमोशन मिल जाएगा। लेकिन वर्चुअल असिस्टेंट की जॉब में आपको इमानदार बनना होगा और जो समय आपको मिलेगा, आपको पूरी कोशिश करनी होगी कि आप उस डेडलाइन के अंदर ही काम पूरा करके अपने क्लाइंट को सौंप दें, वर्चुअल असिस्टेंट के फील्ड में सक्सेसफुल बनने के लिए इमानदारी एक बहुत ही जरूरी चीज है। 

5. आपको “No” कहना सीखना होगा: 

वर्चुअल असिस्टेंट की फील्ड में आपके साथ कई बार ऐसा होगा कि क्लाइंट या ग्राहक आपको बहुत सारा काम देने की कोशिश करेंगे और यह चाहेंगे कि आप उनका सारा काम जल्दी से जल्दी निपटा दें और अगर आपने ऐसे में ‘हां’ बोल दिया, तो फिर आपको बाद में बहुत ज्यादा दिक्कत हो जाएगी। 

क्योंकि फिर आप क्लाइंट की डेडलाइन को पूरा नहीं कर पाएंगे और साथ ही में इस फील्ड में सक्सेसफुल नहीं बन पाएंगे, तो आपको यह देखना होगा कि आप अपनी क्षमता के हिसाब से कितने समय में वह काम कर सकते हैं और क्लाइंट को वही डेडलाइन देनी होगी, जिसके अंदर आप आसानी से उस प्रोजेक्ट को पूरा करके सौंप सके, वरना आपको ना कहना सीखना होगा।

वर्चुअल असिस्टेंट बनकर पैसे कैसे कमाए के इस भाग में हमने आपको बताया कि एक बढ़िया वर्चुअल असिस्टेंट बनने के लिए आप में क्या गुण होने चाहिए और अगर आप में यह गुण मौजूद हैं, तो आप बहुत ही आसानी से वर्चुअल असिस्टेंट बनकर घर बैठे पैसा कमाना शुरू कर सकते हैं और इस नई फील्ड में सफलता पा सकते हैं। 

लेकिन आपको वर्चुअल असिस्टेंट बनकर पैसे कैसे कमाए का हमारा यह आर्टिकल आपको कैसा लगा, हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

FAQs about Virtual Assistant Bankar Paise Kaise Kamaye

वर्चुअल असिस्टेंट से पैसे कैसे कमाए?

वर्चुअल असिस्टेंट बनकर आप दो तरीकों से पैसा कमा सकते हैं, सबसे पहले तरीके में आप फ्रीलांसिंग वेबसाइट्स जैसे कि फाइबर, अपवर्क, आदि पर जाकर वर्चुअल असिस्टेंट की जॉब्स खोज सकते हैं, जबकि दूसरे तरीके में आप वर्चुअल असिस्टेंट के तौर पर अपनी खुद की एजेंसी खोल सकते हैं और clients को हैंडल कर सकते हैं।

फ्री में पैसे कैसे कमाए?

आप फ्री में कई तरीकों से पैसे कमा सकते हैं, जैसे कि ब्लॉगिंग, फ्रीलांसिंग जॉब्स, वर्चुअल असिस्टेंट जॉब, इनफ्लुएंसर मार्केटिंग, सोशल मीडिया मार्केटिंग, फेसबुक एड्स मार्केटिंग, आदि। लेकिन इनमें से सबसे आसान तरीका होता है घर बैठे वर्चुअल असिस्टेंट की जॉब करना और अच्छा खासा पैसा कमाना।

मोबाइल से पैसे कैसे कमाए?

मोबाइल से कई तरीकों से पैसा कमाया जा सकता है जैसे कि राइटिंग, मार्केटिंग, सोशल मीडिया इनफ्लुएंसर, यूट्यूब चैनल बनाकर, वर्चुअल असिस्टेंट, आदि। लेकिन बाकी विकल्पों के मुकाबले फ्रीलांसिंग जॉब्स जैसे कि वर्चुअल असिस्टेंट के तौर पर आपको उतनी ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ती है और आप एक बढ़िया अमाउंट भी कमा लेते हैं।

वर्चुअल असिस्टेंट कैसे बने?

वर्चुअल असिस्टेंट बनने के लिए आप फ्रीलांसिंग वेब साइट्स जैसे कि फाइबर, अपवर्क, VirtualAssistantJobs.com, गुरु, फ्रीलांसर, peopleperhour, आदि का इस्तेमाल कर सकते हैं या फिर अपनी खुद की एजेंसी खोलकर क्लाइंट्स की जरूरतों को पूरा कर सकते हैं।

Virtual Assistant Services क्या होती है?

वर्चुअल असिस्टेंट की सर्विसेज कई तरह की होती हैं, जैसे कि सोशल मीडिया हैंडलिंग, वेबसाइट मैनेजमेंट, ग्राफिक डिजाइनिंग, कस्टमर केयर सर्विस, वीडियो एडिटिंग, ईमेल मैनेजमेंट, आदि और अगर आप इनमें से किसी भी फील्ड मे टैलेंटेड हैं, तो आप वर्चुअल असिस्टेंट बनके अच्छा खासा पैसा कमा सकते हैं। 

Virtual Assistant Jobs क्या हैं?

वर्चुअल असिस्टेंट वह लोग होते हैं, जोकि कंपनी, बिजनेस और entrepreneurs को अपनी सर्विसेज देते हैं, जैसे कि उनका टाइम मैनेज करना, रूटीन बनाना, ईमेल मैनेजमेंट और उनके बाकी काम करना।

ताकि वह लोग जरूरी कामों के लिए समय निकाल सकें और यह सर्विसेज वह अपने घर से ही देते हैं, इसके लिए आपके पास केवल इंटरनेट और एक डिवाइस होना चाहिए। जिसकी मदद से आप लोगों को वर्चुअल असिस्टेंट बनके अपनी सेवाएं दे सकते हैं।

निष्कर्ष

दोस्तों, हमारे ब्लॉग के आज के इस आर्टिकल में हमने आपको बताया कि वर्चुअल असिस्टेंट बनकर पैसे कैसे कमाए और साथ ही में हमने आपको वर्चुअल असिस्टेंट के विषय से जुड़ी हुई सारी जानकारी भी देने की कोशिश की है। लेकिन अगर आपके मन में अभी भी वर्चुअल असिस्टेंट के विषय से जुड़ा हुआ कोई सवाल है, तो उसके बारे में हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। 

ताकि हम आपको उस सवाल या क्वेरी का जवाब दे सके और आपके लिए वर्चुअल असिस्टेंट बनकर पैसे कैसे कमाए (Virtual Assistant bankar paise kaise kamaye) का विषय समाप्त हो सके और आप वर्चुअल असिस्टेंट बनके पैसा कमाना शुरू कर सकें और इस बेहतरीन opportunity का फायदा उठा सकें। 

हमारे ब्लॉग के इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद! 

यह भी पढ़ें…

यह पोस्ट आपके लिए कितना उपयोगी है?

निचे स्टार⭐ पर क्लिक कर के अपना रेटिंग दे!

इस पोस्ट की औसत रेटिंग है: 5 / 5. अभी तक कितना लोग वोट किये है: 182

अभी तक कोई वोट नहीं! सबसे पहले आप वोट कीजिये!

जैसा की आपको यह पोस्ट उपयोगी लगा...

सोशल मीडिया पर, हमारे दोस्त बनिए!

हमें बेहद खेद है की आपको यह पोस्ट पसंद नहीं आया!

इस पोस्ट को और भी बढ़िया बनाने में हमारी सहायता कीजिये!

हमें बताईये, हम इसे कैसे और बढ़िया बनाये!

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.