Domain Name Kaise Chune

अगर आप एक ब्लॉगर हैं या अपना ब्लॉग शुरू करने वाले हैं, तो आज का आर्टिकल domain name kaise chune (डोमेन नेम कैसे चुने) आपके लिए ही है। हमने देखा है कि कई सारे लोगों को यही नहीं पता होता है कि डोमेन नेम किसे कहते हैं(domain name kise kehte hai), डोमेन नेम कैसे खरीद सकते हैं(domain name kaise kharid sakte hai), डोमेन नेम कैसे बनाया जाता है(domain name kaise banaya jata hai),  डोमेन नेम रजिस्टर कैसे (domain name kaise register kare) किया जाता है इत्यादि। 

लेकिन आज के आर्टिकल के माध्यम से आपको इसके बारे में सारी जानकारी मिलेगी। आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताने वाले हैं कि आप domain name kaise chune. इसके अलावा हम आपको बताने वाले हैं domain name kaise kharide, domain name kaise register kare इत्यादि। 

तो चलिए शुरू करते हैं। 

डोमेन नेम क्या होता है?
डोमेन नेम क्या होता है?

डोमेन नेम क्या होता है? | Domain name kya hota hai 

Domain name (डोमेन नेम) असल में  इंटरनेट पर आप का पता होता है।  यह आपकी वेबसाइट का एड्रेस होता है। हर वेबसाइट का  अपना एक URL (uniform resource locator)  होता है।

Telegram पर हमारे दोस्त बनिये😊

किसी भी वेबसाइट का url एड्रेस कभी भी एक जैसा नहीं होता, सब वेबसाइट का अलग-अलग एड्रेस होता है। ऐसा इसलिए होता है ताकि जिस तरह आम जिंदगी में सबका पता अलग अलग होता है, तो यह सहूलियत रहती है के, आपके लिए आई जानकारी आपके पते पर ही मिलेगी। उसी तरह जब भी कोई व्यक्ति इंटरनेट पर आपकी पोस्ट पढ़ने की इच्छा रखेगा तो उसे भी आपकी वेबसाइट का पता मालूम होना चाहिए, तभी तो वह आपके वेबसाइट पर आकर रीड करेगा। 

डोमेन नेम को अलग-अलग तरीके से भी बुलाया जाता है जैसे कि एड्रेस(address),  वेब एड्रेस(web address), ब्लॉग यूआरएल(blog url) इत्यादि। इन सभी नामो का मतलब एक ही होता है। यानी आप की वेबसाइट का पता। 

डोमेन नेम एड्रेस बार (address bar) में लिखा हुआ होता है।  

Domain Name Kaisa Hota Hai?
Domain Name Kaisa Hota Hai?

Domain Name Kaisa Hota Hai?

डोमेन नेम निम्न दो चीजों से मिलकर बना होता है। जो कुछ इस प्रकार है:

1. Blog name (ब्लॉग नेम)

ब्blog name, आप कुछ भी रख सकते हैं और वह कितना भी बड़ा हो सकता है।  हालांकि वह 63 कैरेक्टर से ज्यादा बड़ा नहीं हो सकता।  इसके अलावा आपको यह भी ध्यान रखना होगा कि आपका ब्लॉग नेम ऐसा हो जो कि अवेलेबल हो  और  पहले से स्थापित किसी भी  ब्लॉग या वेबसाइट से मिलता-जुलता ना हो।  कुल मिलाकर आपके अब ब्लॉग नेम यूनिक होना जरूरी है।  तो आप अपना मनपसंद कोई सभी ब्लॉग नेम रख सकते हैं सिर्फ आपको यह देखना होगा कि वह उपलब्ध है या नहीं। 

2. Suffix 

suffix , यह किसी भी वेबसाइट के नाम के अंत में लगाए जाते हैं।  अगर हम दूसरे शब्दों में बात करें तो यह आपके डोमेन नेम के आखिर में लगने वाले शब्द होते हैं।  हिंदी में आप इन्हें प्रत्यय के नाम से भी जानते हैं।  लेकिन इन्हें इंटरनेट की दुनिया में suffix के नाम से ही जाना जाता है।  इसके उदाहरण हैं: . com, .net, .biz, .org , .info इत्यादि। 

डोमेन नेम कैसे चुने?
डोमेन नेम कैसे चुने?

डोमेन नेम कैसे चुने?

अब जो सबसे महत्वपूर्ण सवाल आता है वह यह है कि आप डोमेन नेम कौन सा चुने?  अलग ही इसका जवाब सबके लिए भिन्न-भिन्न तरह का हो सकता है लेकिन फिर भी हम आपको बताते हैं। 

जब भी आप अपना डोमेन नेम चुने, तो आपको यह ध्यान रखना चाहिए कि यह ही आगे चलकर आपका ब्रांड नेम भी बन सकता है।  इसीलिए ऐसे डोमेन नेम(domain name ka chunav )  का चुनाव ना करें जो आप बाद में नहीं चाहते हैं। जल्दी बाजी के चक्कर में अभी कोई सा भी डोमेन नेम रख लिया, फिर बाद में कोई और चेंज कर लिया, ऐसा भी सही नहीं है।  

इसके पीछे कारण यह नहीं है कि आप चेंज नहीं कर सकते आसानी से आप डोमेन नेम को चेंज कर सकते हैं।  लेकिन जब आप domain name चेंज करते हैं, तो उससे लोगों का भरोसा थोड़ा कम हो जाता है, आपकी  साइट की क्रेडिबिलिटी (credibility) भी कम हो जाती है। 

इसलिए आपको यह ध्यान रखना है कि जब भी आप कोई डोमेन नेम चुन (domain name chune) रहे हैं,  तो यह सोचकर चुने,  के बाद में आप इसी के नाम से जाने जाए। 

इन सब बातों को सुनकर आप को ऐसा लग रहा होगा कि डोमेन नेम चुन्ना (domain name chunna) बहुत मुश्किल काम है।  लेकिन इसमें भी हम आपकी मदद करेंगे।

बहुत सारे नए ब्लॉगर इस मुश्किल घड़ी से जूझते ही हैं, जहां उनको नहीं समझ में आ रहा होता है कि उन्हें कौन सा नाम चलना चाहिए।  उन्हें कई सारा लालच होता है कई सारे नाम के ख्याल आते हैं कई सारे कंपीटीटर्स  से मिलते जुलते नाम की भी वह सोचते हैं। 

इसके अलावा सबसे ज्यादा मुश्किल घड़ी तो तब आती है जब आपने निश्चय कर लिया कि  आपका डोमेन नेम यह होगा और  ऐन मौके पर वह डोमेन नेम उपलब्ध ही नहीं है।  तो ऐसी परिस्थिति में निराश  होना जाहिर सी बात है। 

 तो हम आपकी यह मुश्किल आसान कर देते हैं।  आज हम आपको बताएंगे कि आप डोमेन नेम कैसे चुन सकते हैं।  तो चलिए शुरू करते हैं। 

Domain Name chunne ke tarike kya hota hai?
Domain Name chunne ke tarike kya hota hai?

Domain Name chunne ke tarike kya hota hai?  

यहां पर हम आपको बताने वाले हैं कुछ तरीके  और कुछ स्टेप्स (steps) जिनकी मदद से आप भी अपना डोमेन नेम  चुन (domain name kaise chune) पाएंगे वह भी लंबे समय के लिए। 

  1. अपनी niche का चुनाव करें
  2.  अपने टॉपिक का चुनाव करें
  3.  अपने टारगेट ऑडियंस का चुनाव करें
  4.  अपने ब्लॉग से रिलेटेड वर्ड्स चुने
  5.  ऐसे 10 ब्लॉक चुने जो आपको पढ़ना पसंद है
  6.  सारे संभावित डोमेन नेम लिख ले
  7. 10 डोमेन नेम chune 
  8.  डोमेन name बनाने का टूल
  9.  7 फैक्टर का ध्यान रखें एक स्मार्ट डोमेन नेम  बनाने के लिए

    10. डोमेन नेम को रजिस्टर करें

1. अपनी niche का चुनाव करें | select your niche 

डोमेन नेम ढूंढने से भी पहले आपको जिस चीज पर काम करना है वह यह है कि आपको यह डिसाइड करना है कि आपका ब्लॉक का niche क्या होगा?

सबसे पहली सीढी यही है कि आपको यह देखना है कि आपका niche यानि टॉपिक क्या है? क्योंकि इसका जवाब जब आपके पास होगा तभी आप एक बेहतर डोमेन नेम चुन सकेंगे। 

उदाहरण के तौर पर मान लीजिए आप अपने ब्लॉग का niche  रखते हैं हेल्थ यानी स्वास्थ्य  और आपने डोमेन नेम सोचा है, हैप्पी न्यूज़।  अब यहां पर लोगों को यह कंफ्यूजन हो सकता है कि शायद आपके ब्लॉग पर एंटरटेनमेंट से संबंधित न्यूज़ आएगी।  

जबकि आपका उद्देश्य यह था कि आप लोगों को  स्वास्थ्य के महत्वपूर्ण तथ्यों के बारे में बताना था।  इसीलिए आपको domain name chunne  से पहले  अपने niche  पर ध्यान देना है। 

2. अपने टॉपिक का चुनाव करें | select your topic 

एक बार जब आपने अपने नीच का चुनाव कर लिया उसके बाद आपको यह देखना है कि आपके पास कितना  अनुभव या स्किल या फिर इंटरेस्ट  है, आपके ब्लॉग टॉपिक को लेकर(जिसे भी आपने चुना है)।

जिस दूसरी चीज के बारे में आप को ध्यान रखना है वह यह है कि आपका अप्रोच कैसा होगा? यानी आप अपने blog को, बाकी सारे कंपीटीटर(competitor)  से, अलग किस तरह से  प्रस्तुत करेंगे?

यहां पर दो तरीके हैं,  जिनसे आप अपने ब्लॉग को अपने  रीडर्स को प्रस्तुत कर सकते हैं। 

  • पहला तरीका यह है,  जिसमें आप अपने टॉपिक को थोड़ा भावपूर्ण बनाकर प्रस्तुत करेंगे। 
  • दूसरा तरीका यह है,  जिसमें आप अपने टॉपिक को थोड़े गंभीर रूप से प्रस्तुत करेंगे। 

ऐसा इसलिए क्योंकि आप जिस भाषा का यह जिस स्टोन का प्रयोग कर रहे हैं उसका भी बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका होती है आपके डोमेन नेम को चुनने के लिए। 

ऐसा करना इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि ऐसा तो है नहीं कि सिर्फ आप ही ब्लॉक बना रहे हो उस टॉपिक  पर।  मार्केट में पहले से भी कई सारे ब्लॉगर होंगे जो उसी टॉपिक पर ब्लॉक बना रहे होंगे जिस पर आप बनाने वाले हैं।  तो आप उन से किस प्रकार भिन्न दिखेंगे,  इस चीज पर आपको विचार करना है। 

3. अपने टारगेट ऑडियंस का चुनाव करें | select your targeted audience 

इसके बाद आपको यह देखना है कि आप अपना ब्लॉग किस तरह की ऑडियंस के लिए बना रहे हैं।  जी हां सुनने में यह भले ही थोड़ा अजीब लगे लेकिन आपको यह जानना बहुत जरूरी है कि आपकी टारगेट ऑडियंस कौन सी है?

आपकी टारगेट ऑडियंस का सीधा सीधा प्रभाव आपके ब्रांड नेम, लोगों, डिजाइन, कलर इत्यादि  पर पड़ता है। आप सभी तरह की ऑडियंस के लिए ब्लॉग नहीं बना सकते हैं।

अगर आप यह जानना चाहते हैं कि आप कौन से  ऑडियंस पर फोकस करेंगे तो उसके  आप इन तीन  प्रश्नों का ध्यान रख सकते हैं:

  • वह कौन से लोग हैं, जिनके लिए आप ब्लॉग लिख रहे हैं?
  • आप अपने रीडर्स की कौन सी समस्या सो जाना चाहते हैं?
  • आप कौन से डेमोग्राफिक कैरेक्टर के लिए अपना ब्लॉग बना रहे हैं? 

बाकी सब तो आपको पता चल ही गया होगा लेकिन आखिरी सवाल यानी डेमोग्राफी कैरेक्टर के बारे में हम बता दें कि इसका मतलब होता है कि आप किस तरह की उम्र,  जेंडर, जगह,  भावनाएं, विश्वास, रुचि इत्यादि,यानि किस तरह की ऑडियंस को टारगेट कर रहे हैं ? 

अब जब आपको पता चल गया है कि आपकी टारगेट ऑडियंस कौन सी है आपका niche  कौन सा है?  तो अब सवाल आता है, उन शब्दों का इस्तेमाल करने का जिसकी मदद से आप अपना डोमेन नेम चुन सकते हैं। 

अब आपको क्या करना है?आपको एक पेपर लेना है और उस पर जितने भी शब्द आपको, आपके ब्लॉक से रिलेटेड लग रहे हैं या  आने वाले भविष्य में आप अपने ब्लॉग को किस तरह से देखते हैं उससे संबंधित हैं,  वे सारे शब्द लिख लेने हैं। 

यह शब्द किस तरीके से हो सकते हैं:

  •  आपके  टॉपिक से जुड़े हुए
  •  आपके आर्डियन से जुड़े हुए
  •  आपके स्टाइल से जुड़े हुए

हालांकि ऐसा जरूरी नहीं है कि आपको इन सारे शब्दों में से ही किसी शब्द का डोमेन नेम लेना है। लेकिन यह आपके काफी काम आएंगे जब आपको डोमेन का नाम chunna  होगा। ऐसा इसलिए क्योंकि हो सकता है इन सब शब्दों के कॉन्बिनेशन से ही आपको आपका मनचाहा डोमेने मिल सके। 

5. ऐसे 10 Blog चुने जो आपको पढ़ना पसंद है

इसके बाद आपको ऐसे 10 या उससे भी ज्यादा  अपने फेवरेट ब्लॉक के नाम लिखने हैं  यानी डोमेन नेम लिखना है जो भी आपको पढ़ने में बहुत पसंद है।  अब यह जरूरी नहीं है कि वह  आपके niche से ही संबंधित हो। लेकिन जहां तक हो सके आपको यही कोशिश करनी है कि वह ऐसे ब्लॉक हो जो कि आपके टॉपिक से ही जुड़े हुए हो।  

अब अगर ऐसा है कि आपको ज्यादा ब्लॉक पढ़ना पसंद नहीं है लेकिन फिर भी आप जानना चाहते हैं कि कौन-कौन से ऐसे ब्लॉग्स हैं तो आप ऐसे कुछ ब्लॉग्स चुन सकते हैं जो कि आपके इंटरेस्ट के टॉपिक पर ही आर्टिकल लिख रहे हो। 

 इसके बाद आपको इनका अच्छे से एनालिसिस(analysis)  करना है और एनालिसिस(analysis) करने के लिए इन सवालों के जवाब ढूंढने हैं:

  • आप इन से क्या सीख सकते हैं?
  • क्या ऐसे कोई आम शब्द हैं, जिनसे प्रेरित होकर आप अपना डोमेन नेम बना सकते हैं?
  • क्या इन उदाहरण से आपको ऐसा लगा कि आपको भी एक दिन अपने डोमेन को इस स्थान पर लाना है?

जब आप इन सारे सवालों के जवाब दे देंगे तो आपके पास कुछ  उदाहरण तैयार हो जाएंगे जो कि आपकी मदद करेंगे आपके डोमेन नेम का चुनाव करने के लिए। 

सारे संभावित डोमेन नेम लिख ले
सारे संभावित डोमेन नेम लिख ले

6. सारे संभावित डोमेन नेम लिख ले | write probable domain name 

ऊपर दिए गए सारे चिप्स को अपनाने के बाद अब आपके पास कई सारे विचार आने लग गए होंगे, सुझाव आने लगे होंगे, या आइडियाज(ideas)  आने लग गए होंगे,अपने डोमेन नेम को चुनने(domain name chunne) के लिए। 

इसमें हमारा यह सुझाव है कि  आपके मन में जितने भी आईडियाज (ideas) आ रहे हैं, अपने संभावित डोमेन नेम (probable domain name )को लेकर, अब आपको उस पर एक्शन लेना चालू करना होगा।  

आपको सिर्फ एक या दो नाम के भरोसे नहीं बैठना है क्योंकि अक्सर जो हम सोचते हैं वैसा होता नहीं है। इसीलिए  यहां पर भी आपको कोशिश करनी चाहिए कि आप  कम से कम 8   या 10 ,  नाम ऐसे चुनें, जो आप अपने ब्लॉग के लिए रखने की सोच रहे हैं। 

उसके बाद आप उस पर अच्छे से विचार कर ले।  कि क्या आप वाकई इसी नाम से अपना ब्रांड स्थापित(brand establish)  करना चाहते हैं? 

7. 10 domain name chune 

8-10 संभावित डोमेन नेम चुनने के बाद। अब आपको एक एक्शन लेना है। और वह एक्शन यह है कि आपको यह देखना है कि आपने जो 8-10  संभावित डोमेन  नेम चुनने हैं की क्या वह रजिस्ट्रेशन के लिए अवेलेबल है?

आप यह देख सकते हैं, कि जो domain name आपने सोचा है, उसकी उपलब्धता है या नहीं? आप अपने डोमेन नेम की उपलब्धता, hover या godaddy पर देख सकते हैं। यहां पर आप फ्री में अपने डोमेन नेम की उपलब्धता देख सकते हैं। 

अब यहां पर आपको एक चीज का विशेष ध्यान रखना है, की आपको पहले से ही स्थापित डोमेन नेम का रजिस्ट्रेशन (domain name registration) नहीं करवाना है, भले ही वह आपको थोड़े ज्यादा दाम पर मिल रहा हो।  जी हां, इन साइट्स पर कई बार ऐसा होता है कि अगर आप रजिस्ट्रेशन फीस ज्यादा देंगे, तो आपको आपका मनचाहा domain name मिल जाएगा, लेकिन उसकी वजह से आपको काफी ज्यादा खर्चा करना पड़ता है। 

आमतौर पर आप जो भी डोमेन नेम(domain name chunenge) चुनेंगे, उसके साथ आपको suffix .com लेना होता है। लेकिन अगर आपके डोमेन नेम में . com  उपलब्ध ना हो तो आप थोड़े कम रजिस्ट्रेशन फीस में . net  या . co भी चुन सकते हैं।  यह दोनों ही आपको काफी कम दाम में उपलब्ध हो जाएंगे। 

तो आप अपने  बजट के हिसाब से अपना डोमेन नेम चुन (domain name chun) सकते हैं।    

8. डोमेन name बनाने का टूल | tool for making domain name 

अगर आपको अभी भी अपना domain name chunne (डोमेन नेम चुनने) में दिक्कत आ रही है। तो आप किसी  डोमेन नेम जनरेटर टूल (domain name generator tool ) इस्तेमाल कर सकते हैं। 

हां, मार्केट में ऐसे कई सारे फ्री डोमेन जनरेटर टूल(free  domain name generator tool) है, जिनका इस्तेमाल करके आप अपने डोमेन नेम की उपलब्धता (domain name availability ) देख सकते हैं। हालांकि ज्यादातर जो domain name generator tools  (domain name जनरेटर टूल्स) है, वह आपको यह बताते हैं कि कहीं आप जिस डोमिन का चुनाव कर रहे हैं, वह पहले से तो किसी ने नहीं ले रखा?  और अगर ऐसा है तो वह आपको कुछ दूसरे नाम भी सजेस्ट (suggest) करते हैं। 

 तो आप उन सजेशन (suggestions) में से देख सकते हैं कि आपको कौन सा domain name पसंद आ रहा है। 

9. 7 फैक्टर का ध्यान रखें एक स्मार्ट डोमेन नेम बनाने के लिए

अगर इस पॉइंट तक आने के बाद भी आप के पास बहुत सारे संभावित डोमेन name  ऑप्शन(probable domain name options)  है और आप यह नहीं पहचान पा रहे या आपको यह जानने में दिक्कत हो रही है, कि आपको कौन सा domain name chunna   है, तो आप अपना एक छोटा सा टेस्ट ले सकते हैं। 

यहाँ पर हम कुछ सवाल प्रदर्शित कर रहे हैं, ताकि आपको डोमेन नेम चुनने (domain name chunne ) में सहूलियत हो, अगर आपका  domain name इन सभी सवालों पर खरा उतरता है,  तो आप उसे फाइनल कर सकते हैं।  

हमें उम्मीद है कि इन सवालों के जवाब के बाद आपको अपना संभावित डोमेन नेम मिल जाएगा। 

  1. एक अच्छा domain name थोड़ा छोटा होता है। 
  2. एक smart domain name में किसी भी प्रकार की उलझन (confusion)नहीं होती है। 
  3. एक अच्छा domain name बोलने में आसान होता है।क्यूंकि अगर वो मुश्किल होगा तो लोग उसे याद नहीं रख पाएंगे। 
  4. आपका domain name पढ़ने में भी आसान हो।     
  5. ये सुनिश्चित कर ले के यह आपके  मकसद को सही से कॉन्प्लीमेंट(compliment)  कर रहा है कि नहीं। 
  6. एक आदर्श domain name वह होता है जो  लोगों के सामने आपके स्टाइल की छवि भी प्रस्तुत करता है। 
  7. हमेशा कोशिश  करे के आप . com वाला domain name ही लें।  

यहां पर जो हमने आपको 7  पॉइंट्स बताए  हैं, आपको उनमें यह चेक करना है कि आपने जो डोमेन नेम चुना (domain name chuna) है, वह इन सब पर खरा उतर रहा है या नहीं। 

अगर आपका डोमेन नेम (domain name) इन सभी चीजों पर खरा उतर रहा है तो आपने सही डोमेन नेम चुना (sahi domain name chuna) है। 

10. डोमेन नेम को रजिस्टर करें | domain name registration 

हमें लगता है अब तक तो आप ने  अपना domain name bana लिया होगा या फाइनल नाम सेलेक्ट कर लिया होगा ।  

अब आखिर का स्टेप आता है डोमेन नेम रजिस्टर कराने का (domain name register karane ka) । आपने अक्सर यह सोचा होगा कि डोमेन नेम कैसे रजिस्टर्ड कराएं (domain name kaise register kare), domain name ka registration kaise hota hai (डोमेन नेम का रजिस्ट्रेशन कैसे होता है)? अक्सर लोगों को यह सवाल काफी मुश्किल लगते हैं। उन्हें यही नहीं पता होता कि डोमेन नेम का रजिस्ट्रेशन कैसे होता है?(domain name registration kaise hota hai) 

आज हम आपको बताते हैं की आप भी अपना डोमेन नेम  कुछ वेबसाइट पर आसानी से रजिस्टर करा सकते हैं। namecheap और godaddy,यह दोनों ऐसी साइट्स है जहां पर आप आसानी से domain name registration  करा सकते हैं।  इन वेबसाइट्स पर आपको registration  के बाद सालाना फीस देनी होती है। और फिर साल दर साल आपको annual fees देनी होगी, अपने डोमेन नेम को जिंद रखने के लिए यानि उसकी validity कायम रखने के लिए ।

हमें उम्मीद है कि हमारे बताए हुए सारे 10 स्टेप्स (steps) का अगर आप ध्यान पूर्वक अवलोकन (analysis) करेंगे, तो आपको अपना पसंदीदा domain name मिल जाएगा। जो कि आपको आने वाले भविष्य में सिर्फ ख्याति ही नहीं दिलाएगा बल्कि आपकी सफलता का कारण भी बनेगा।  हमें उम्मीद है कि यह  पूरा प्रोसेस कंप्लीट (process complete) करने के बाद आपके मन में कोई शंका नहीं रही होगी।  

निष्कर्ष about Domain Name Kaise Chune 

मुझे उम्मीद है कि आपको हमारा यह आर्टिकल (डोमेन नेम कैसे चुने)domain name kaise chune’ काफी पसंद आया होगा और आपको इससे काफी सारी जानकारी मिली होगी के domain name kaise banaye, domain name kaise kharide और भी बहुत कुछ।   

आज के आर्टिकल ‘domain name kaise chune’ में हमने जाना domain name kya hota hai, domain name kya h, domain name kaise hota h इत्यादि। 

इस आर्टिकल में हमने आपको कई सारे स्टेप्स (steps) बताए हैं, जिनको follow करके आपको अब तक यह समझ में आ गया होगा, कि आप अपना domain name kya rakhe, domain name kaise chune और कैसे आप अपने domain name register करे। इसके साथ ही हमने आपको यह भी बताया कि आप domain name kaise le सकते हैं। 

आपकी मदद के लिए हमने आपको साथ टेस्ट भी बताएं जिसके जरिया पता लगा सकते हैं, कि आपने जो domain name chuna  है, वह वाकई आपके ब्रांड को प्रस्तुत (brand represent )करता है या नहीं। 

आपको हमारा आर्टिकल ‘domain name kaise chune ‘कैसा लगा आप हमें जरूर बताइएगा। 

अगर आपके कोई सवाल या सुझाव है इस आर्टिकल domain name kaise chune को लेकर तो भी हमें जरूर बताएं हमें आपके  कमैंट्स का इंतजार रहेगा। 

 धन्यवाद!

यह भी पढ़ें…

यह पोस्ट आपके लिए कितना उपयोगी है?

निचे स्टार⭐ पर क्लिक कर के अपना रेटिंग दे!

इस पोस्ट की औसत रेटिंग है: 5 / 5. अभी तक कितना लोग वोट किये है: 730

अभी तक कोई वोट नहीं! सबसे पहले आप वोट कीजिये!

जैसा की आपको यह पोस्ट उपयोगी लगा...

सोशल मीडिया पर, हमारे दोस्त बनिए!

हमें बेहद खेद है की आपको यह पोस्ट पसंद नहीं आया!

इस पोस्ट को और भी बढ़िया बनाने में हमारी सहायता कीजिये!

हमें बताईये, हम इसे कैसे और बढ़िया बनाये!

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.