CRPF full form एवं इसके कार्य | crpf full form in hindi

5
(31)

क्या आप जानना चाहते हैं कि crpf full form in hindi और यह क्या कार्य करते हैं, तो हमारे इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़िएगा।

दोस्तों आप में से बहुत लोगों ने नेट पर सर्च किया है कि सीआरपीएफ का फुल फॉर्म क्या है या crpf full form army

इसलिए हम आपको अपने इस आर्टिकल की मदद से सीआरपीएफ के बारे में पूरी जानकारी देना चाहते हैं, यह क्या है, क्या कार्य करते हैं, यह कैसे बना, आदि।

तो चलिए शुरू करते हैं।

CRPF का फुल फॉर्म क्या है?

crpf full form in hindi

दोस्तों CRPF का फुल फॉर्म है Central Reserve Police Force, इसे हिंदी भाषा में केन्द्रीय रिज़र्व पुलिस बल भी कहा जाता है। दोस्तों यह है crpf full form in army in hindi.

यह हमारे भारत की paramilitary फोर्स है और यह सबसे बड़ी Central Armed Police Force भी है। यह होता है crpf full form in english.

सीआरपीएफ हमारी

भारतीय सरकार की Ministry of Home Affairs (MHA) के नीचे काम करती है, इसका motto है सेवा और निष्ठा (ईमानदारी, वफादारी)।

CRPF कब बना था?

CRPF कब बना था

सीआरपीएफ 27 जुलाई 1939 को Crown Representative’s Police के तौर पर बनी था। 28 दिसंबर 1949 को यह सीआरपीएफ एक्ट के अंतर्गत Central Reserve Police Force बन गई थी। अब यह एक बहुत ही बड़ी फोर्स बन गई है।

CRPF के Director General कौन हैं?

जुलाई 2021 से CRPF के डायरेक्टर जनरल Mr Kuldiep Singh, IPS हैं।

CRPF का headquarter कहां  स्थित है?

सीआरपीएफ के headquarters नई दिल्ली में स्थित है।

CRPF का मिशन क्या है?

सीआरपीएफ का मिशन Law के Rule को बनाए रखना, नागरिकों में ऑर्डर मेंटेन करना, और इंटरनल सिक्योरिटी को सही तरह से बनाए रखना है। 

इनका काम देश की integrity को संभाल कर रखना, लोगों में प्रेम- भाव को बढ़ाना और Constitution को बनाए रखकर, देश के विकास में अपना सहयोग देना है। 

इन सब कामों को भारत के नागरिकों की इज्जत और हिफाजत को ध्यान में रखकर करने के लिए, इस फोर्स को इंटरनल सिक्योरिटी को मैनेज करने में और देश पर कोई calamity आने पर अपनी जी जान लगाने के लिए, खुद से पहले अपनी सेवा और निष्ठा को रखना होगा। 

इसी दोनो चीजों की वजह से ही यह संकट की घड़ी में यह अपने देश की सेवा कर पाते हैं।

भारत में law और आर्डर को बनाए रखने के साथ, चुनाव के दौरान सीआरपीएफ भारत में शांति बनाए रखने में भी बहुत बड़ा सहयोग देते हैं। सीआरपीएफ continents को UN के मिशन में भी deploy किया जाने लगा है।

CRPF का vision क्या है?

सीआरपीएफ इन सभ कामों में अपना सहयोग देती है। 

  • भीड़ को संभालना 
  • दंगे फसाद होने पर उसपर काबू करना
  • Counter Militancy या फिर Insurgency ऑपरेशंस करना
  • Left Wing Extremism से deal करना
  • बड़े स्केल में सिक्योरिटी के कामों को संभालना, ज्यादातर उन जगहों पर जहां पर चुनावों की वजह से दंगे या riot होने का डर होता है। 
  • अगर भारत पर कोई हमला हो जाता है, तो यह दुश्मन से लड़ते हैं। 
  • सरकार की पॉलिसी के हिसाब से यह UN Peace Keeping Mission में भी भाग लेते हैं।
  • अगर देश में कोई तूफान, सुनामी, आदि आ जाता है, तो यह उस समय लोगों को बचाने का और उन तक जरूरत के सामान पहुंचाने का काम कर भी करते हैं।

CRPF का इतिहास क्या है?

CRPF का इतिहास क्या है
  • जैसा कि हमने आपको पहले भी बताया था कि 27 जुलाई 1939 को सीआरपीएफ CRP से ड्राइव किया गया था और इसकी दो battalions Nimach और मध्य प्रदेश में थी। इसकी सबसे पहली ड्यूटी उस समय भारत के सेंसिटिव राज्यों में ब्रिटिश से आए लोगों को बचाने की थी। 
  • 1949 में, CRP ko CRPF act के अंतर्गत इसका current नाम CRPF दिया गया था। 
  • 21 अक्टूबर 1959 को, चीन की फौज ने SI Karam Singh के साथ 20 और सिपाहियों पर Ladakh की Hot Springs में हमला कर दिया था, जिसमें 10 लोगों की मौत हुई थी और बचे हुए लोगों को उन्होंने कैदी बना लिया था। उसी दिन से 21 अक्टूबर को Police  Commemoration के रूप में देशभर में observe किया जाता है। 
  • 1965 में 8 और 9 अप्रैल के बीच की रात में पाकिस्तान की 51st Infantry Brigade के 500 आदमी आदमियों ने 18 पंजाब Bn, 8 लांचर राइफल्स और 6 बलूच Bn को compromise करके ” Rann of Kutch की सीमा के पोस्ट पर “Desert Hawk”  के ऑपरेशन को लांच किया था। वह तो Head Constable Bhawana Ram का साहस था जिन्हे सरदार पोस्ट के eastern पैरामीटर पर deploy किया गया था, जिन्होंने अपनी साहस दिखाकर घुसपैठियों को आगे बढ़ने से रोका और उन्हें वापस जाने पर मजबूर कर दिया।
  • सीआरपीएफ ने भारत-पाकिस्तान के बॉर्डर को भी 1965 तक गार्ड किया है, जिसके बाद इस काम के लिए Border Security Force को बनाया गया था। 
  • 2001 के भारतीय Parliament पर किए गए हमले में सीआरपीएफ के जवानों ने सारे पांच आतंकवादियों को मार गिराया था, जिन्होंने नई दिल्ली में बने भारतीय पार्लियामेंट के premises में घुसने की कोशिश की थी। 
  • 5 जुलाई 2005 को जब अयोध्या की राम जन्मभूमि complex में पांच आतंकवादियों ने हथियारों के साथ घुसने की कोशिश की थी और वह बाहर की security ring के अंदर घुस गए थे, तब उन्हें सीआरपीएफ के जवानों का मुकाबला करना पड़ा था जिन्होंने एक इनर सिक्योरिटी रिंग बना रखी थी।
  • 2008 में Commando Battalion for Resolute Action (CoBRA) को भी सीआरपीएफ के साथ जोड़ा गया था जिनका काम Naxalite मूवमेंट को रोकना था।
  • 2 सितंबर 2009 को 5000 सीआरपीएफ जवानों को आंध्र प्रदेश के चीफ मिनिस्टर  Y. S. Rajasekhara Reddy को ढूंढने और वापस लाने के लिए भेजा गया था, जब उनका हेलीकॉप्टर आंध्र प्रदेश की नर्मदा फारेस्ट रेंज में खो गया था। यह भारत के इतिहास का सबसे बड़ा सर्च ऑपरेशन था।

CRPF ने किन operations को अंजाम दिया है?

CRPF ने किन operations को अंजाम दिया है

CRPF ने अब तक तीन missions को अंजाम दिया है।

Sri Lanka Mission

CRPF की services की जरूरत अब भारत की सीमा के पार भी पढ़ने लगी है। श्रीलंका में सीआरपीएफ की सर्विस को IPKF का भाग बताया गया है, यूएन की शांति कायम रखने वाली फोर्स भी इस फोर्स की काबिलियत, फुर्ती और भरोसा दिलाने वाली बात के बारे में बताती है, क्योंकि वह फोर्स तंग हालातों में भी अपना काम करना जानती है।

Haiti Mission

Haiti में presidential चुनावों के दौरान शांति कायम रखने के लिए इस पोस्ट ने मोबाइल patrolling, saturation पेट्रोलिंग, थानों की रक्षा की और ऐसे बहुत से काम किए। इन्होंने कैदियों को train भी किया। 

इस contingent को अपने बेहतरीन काम की वजह से US की आर्मी Commendation Medal , 5 यूएस आर्मी के अचीवमेंट के मेडल्स, 80 appreciation कॉइंस और 120 लोगों को UN को मिले। नवंबर 1995 में इनका काम Haiti में समाप्त हो गया था।

Liberia Mission

United Nations और भारत की मिनिस्ट्री के होम अफेयर्स की स्पेशल request पर, फरवरी 2007 को एक महिला सीआरपीएफ team बनाई गई थी जिसे Liberia में उतारा गया था। 

UN की peacekeeping फोर्स के तौर पर, वहां पर जो 23 देशों की फौज थी, उनमें से केवल भारत की ही एक अलग महिलाओं की टीम से, UN की पीसकीपिंग फोर्स में वह पहली महिलाओं की टीम थी जिसे एक्शन पर लगाया गया था।

CRPF का Organizational structure कैसा है?

crpf का organization structure

CRPF को डायरेक्टर जनरल head करते हैं जो एक भारतीय पुलिस सर्विस के ऑफिसर होते हैं और इसे 10 administrative सेक्टर में बांटा जाता है, जिसमें से हर एक सेक्टर को एक इंस्पेक्टर जनरल लीड करता है। हर सेक्टर में एक या एक से ज्यादा ऑपरेशनल रेंज होती हैं, जिन्हें डेप्युटी इंस्पेक्टर जनरल लीड करते हैं।

इसमें कुल 245 battalions हैं, और सबमें 1200 constables हैं। हर बटालियन को एक कमांडेंट रैंक का कमांडिंग ऑफिसर लीड करता है, और इसमें 7 सीआरपीएफ की कंपनियां होती है, जिसमें से हर एक कंपनी में 135 लोग होते हैं। हर कंपनी को एक असिस्टेंट कमांडेंट लीड करता है।

CRPF को चार और agencies में बाटा गाया है।

  • Commando Battalion for Resolute Action (COBRA)
  • Rapid Action Force (RAF)
  • Special Duty Group
  • Parliament Duty Group

CRPF में महिलाओं का क्या role है?

हमारे देश में सीआरपीएफ ही केवल एक ऐसी Para Military Force है, जिसमें तीन महिला बटालियंस है।

जिस तरह से राजनीति, जुर्म और बाकी जगहों में महिलाओं की तादात बढ़ती जा रही है, पुलिस वालों को महिलाओं को संभालने में बहुत ज्यादा दिक्कतें आ रही हैं, क्योंकि अगर महिलाओं से डील करने में थोड़ी सी भी कोई गलती या काम हो गया तो उन पर बहुत सारी दफाओं के अंतर्गत केस हो सकते हैं। 

इस दिक्कत से निपटने के लिए सीआरपीएफ ने महिलाओं की बटालियंस बनाई है। 

जिस तरह से सीआरपीएफ की पहली महिला बटालियन को सफलता मिली थी  और शांति बनाए रखने के लिए महिलाओं की जरूरत पड़ने पर और सरकार के कहने पर की महिलाओं को हर डिपार्टमेंट में जोड़ा जाए सीआरपीएफ की दूसरी को 1995 में और तीसरी बटालियन को 2011 में बनाया गया था।

CRPF को अब तक 1586 medals दिए जा चुके हैं।

CRPF का acronym है “चलते रहो प्यारे फोर्स”, क्योंकि यह हमेशा भारत के किसी ना किसी कोने में जाते ही रहते हैं, वहां की दिक्कतों को दूर करने के लिए।

मैं CRPF किस तरह से join कर सकता हूं?

मैं CRPF किस तरह से join कर सकता हूं

हम आपको CRPF को join करने का पूरा तरीका बताते हैं।

1. सबसे पहले आपको CRPF की लिखित परीक्षा निकलनी होगी।

2. उसके बाद आपका Physical Measurement होगा। 3. फिर आपका Physical Efficiency Test (PET) होगा। 

4. चौथे भाग में आपके testimonials देखे जायेंगे। 

5. अंत में आपका मेडिकल exam होगा।

CRPF की तनखा क्या होती है? (crpf salary)

सीआरपीएफ की तनखा ₹69,108 हर महीना होती है। Assistant Commandant की तनखा ₹70,527 हर महीना होती है।

Constable की तनखा ₹37,682 हर महीना होती है और

General Duty की तनखा साल के ₹4,80,000 होती है।

ये भी पढ़े…

निष्कर्ष about crpf full form in hindi

अगर आप सीआरपीएफ में भरती होना चाहते हैं, तो आपको एक recognised यूनिवर्सिटी से सिविल इंजीनियरिंग में बैचलर की डिग्री लेनी होगी। 

सीआरपीएफ में आप 35 साल की age तक ही जा सकते हैं। सीआरपीएफ में आदमियों की हाइट 165 सेंटीमीटर तक होनी चाहिए और महिलाओं की 150 सेंटीमीटर तक, और हाइट के हिसाब से ही उनका वजन भी होना चाहिए। अपने आर्टिकल के इस भाग में हमने आपको crpf full form age limit बताई।

दोस्तों इस आर्टिकल में हमने आपको सीआरपीएफ के बारे में पूरी जानकारी दें यह क्या है, कैसे बना, इनकी तनखा कितनी होती है आदि। 
आशा करते हैं कि आपको हमारा यह आर्टिकल crpf full form in hindi पसंद आया होगा, इसे पढ़ने के लिए धन्यवाद!

यह पोस्ट आपके लिए कितना उपयोगी है?

निचे स्टार⭐ पर क्लिक कर के अपना रेटिंग दे!

इस पोस्ट की औसत रेटिंग है: 5 / 5. अभी तक कितना लोग वोट किये है: 31

अभी तक कोई वोट नहीं! सबसे पहले आप वोट कीजिये!

जैसा की आपको यह पोस्ट उपयोगी लगा...

सोशल मीडिया पर, हमारे दोस्त बनिए!

हमें बेहद खेद है की आपको यह पोस्ट पसंद नहीं आया!

इस पोस्ट को और भी बढ़िया बनाने में हमारी सहायता कीजिये!

हमें बताईये, हम इसे कैसे और बढ़िया बनाये!

Leave a Comment