Blogging Mistakes in Hindi

क्या आप जानना चाहते है Blogging Mistakes For Beginners in hindi? आज हम आपके लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण टॉपिक लेकर आए हैं। आज का जो हमारा टॉपिक होने वाला है वह वर्क फ्रॉम होम कल्चर की वजह से काफी ट्रेंडी टॉपिक बन चुका है। 

आज हर कोई उस के माध्यम से पैसे कमाना चाहता है।  तो अब हम आपको बता ही देते हैं कि आज का हमारा आर्टिकल किस बारे में है। हमारा आज का आर्टिकल है blogging mistakes  यानी कि ब्लॉगिंग से जुड़ी हुई गलतियों के बारे में। 

इन worst blogging mistakes के बारे में जानकारी होना बहुत ज्यादा जरूरी है, अगर आप एक ब्लॉग शुरू करना चाहते हैं, या आप पहले से ही एक ब्लॉगर हैं या आप जितना मेहनत अपने ब्लॉग के लिए कर रहे हैं आपको उसके उतने रिजल्ट या उतने व्यूज नहीं मिल रहे हैं, आपके चैनल की ग्रोथ रुक सी गई है, या आपको लगने लगा है कि यह ब्लॉगिंग आप के बस की बात नहीं है इत्यादि। 

अगर आपके मन में भी यह सारे सवाल है तो आज हम आपको हमारे आर्टिकल ब्लॉगिंग मिस्टेक्स के माध्यम से वह सारी गलतियों के बारे में बताएंगे जो कि आपको नहीं करनी चाहिए। 

हमें उम्मीद है कि आप इन सभी गलतियों से कुछ ना कुछ सबक लेंगे, कुछ ना कुछ आपको सीखने को मिलेगा और आप इन गलतियों को दोहराएंगे नहीं। जब आप इन गलतियों को सुधार लेंगे और उन्हें दोबारा रिपीट नहीं करेंगे, तो आप खुद भी देखेंगे के आपका ब्लॉग और आप खुद भी कितनी तरक्की कर रहे हैं। 

Telegram पर हमारे दोस्त बनिये😊

आज के हमारे  आर्टिकल ‘blogging mistakes’ ( ब्लॉगिंग मिस्टेक्स ) में आप सीखेंगे वह कौन-कौन सी कॉमन मिस्टेक (common blogging mistakes)  है जो कि सभी लोग करते हैं वह कौन-कौन सी मिस्टेक्स है जो कि बिगिनर्स(beginners)  करते हैं वह कौन-कौन सी मिस्टेक्स है जो छोटे व्यापारी या छोटे बिजनेस करते हैं इत्यादि। 

अगर आपको लगता है कि आप कोई भी गलती नहीं कर रहे हैं तो भी यह आर्टिकल ‘blogging mistakes’ (ब्लॉगिंग मिस्टेक्स)  आपके लिए काफी लाभदायक रहेगा क्योंकि इस टॉपिक में हम बहुत सारे आपको टिप्स बताएंगे जो कि आपके बहुत काम के साबित होंगे,  और आपके ब्लॉगिंग केरियर को एक नया आयाम देंगे ।

 तो चलिए शुरू करते हैं। 

ब्लॉगिंग क्या है?
ब्लॉगिंग क्या है?

Post Contents:

ब्लॉगिंग क्या है? | What is Blogging? 

ब्लॉगिंग एक तरह का लिखने का कार्य है। यह इसकी सबसे सरल परिभाषा है।  

जी हां, यह इतना सा ही है ब्लॉगिंग में कोई भी व्यक्ति अपने विचार, जानकारी , तथ्य, अनुभव, किससे, कहानी  या पढ़ाई से संबंधित पाठ  का एक्सप्लेनेशन भी शेयर कर सकता है।

जो भी लोग ब्लॉगिंग करते हैं वह समय-समय पर अपने ब्लॉग पर पोस्ट डालते हैं और लोग उन्हें पढ़ते हैं।

जब लोग आपके ब्लॉग पोस्ट लगातार पढ़ते रहते हैं और उन्हें आपके ब्लॉग पोस्ट ज्ञानवर्धक लगते हैं और वह उसे पसंद करते हैं तो वो आपके ब्लॉग को शेयर करते हैं। 

अब जब आपका ब्लॉग या आपकी कोई पोस्ट थोड़ा लोकप्रिय हो जाता  हैं तो आप इसको कमाई का जरिया या साधन भी बना सकते हैं।

ब्लॉगिंग की शुरुआत एक तरह से फ्री टाइम में अपने विचार दूसरे लोगों तक प्रस्तुत करने के तौर पर हुई थी। लेकिन धीरे-धीरे इसमें भी लोगों की आम जिंदगी में जगह बना ली और आज यह एक तरह का बिज़नस बन चुका है। 

आज हजारों लाखों लोग ब्लॉगिंग से करोड़ों रुपए कमाते हैं।

आज कई सारे ऐसे बिजनेस है जो  समय-समय पर अपने ब्लॉग पर कई सारी  बेहतरीन जानकारी  पोस्ट करते हैं।  इससे यह फायदा होता है कि लोगों का ज्ञान भी बढ़ता है और लोगों का उनके ब्लॉग और उनकी कंपनी के प्रति  सकारात्मक दृष्टिकोण और  अच्छी छवि बनती है, जो कि कंपनी के प्रोडक्ट ओर सर्विस इसके लिए काफी अच्छी बात है। 

कंपनियों के लिए भी यह अच्छी बात है क्योंकि इसके लिए उन्हें एडवर्टाइजमेंट में पैसा नहीं खर्च करना पड़ता है वह सिर्फ ब्लॉक पोस्ट कर रहे हैं और वह अपने आप लोगों तक पहुंच रहे हैं  बाकी  पब्लिसिटी का काम लोग उनकी पोस्ट शेयर करके कर ही देते हैं। 

आप ब्लॉगिंग से पैसे भी कमा सकते हैं उसके लिए आपको क्या करना होगा यह जानकारी भी आपको इस आर्टिकल में मिल जाएगी।

तो अब तक तो आप समझ ही गए होंगे कि ब्लॉगिंग होता क्या है। 

Blogging Mistakes For Beginners
Blogging Mistakes For Beginners

नए ब्लॉगर्स की गलतियाँ | Blogging Mistakes For Beginners

यहां हम आपको बताने वाले  है कि बिगनर (beginners) कौन-कौन सी blogging mistakes  (ब्लॉगिंग मिस्टेक) करते हैं। 

अगर आप ने भी अपना ब्लॉग हाल ही में शुरू किया है या आप ब्लॉगिंग में कैरियर बनाना चाहते हैं या ब्लॉक स्टार्ट करने की सोच रहे हैं तो भी यह गलतियां आपको सचेत करेगी,  इनकी मदद से आपको सीखने को मिलेगा कि आपको भी इन जगहों पर  सचेत हो जाना चाहिए।

वैसे भी जिंदगी में सारी गलतियां खुद नहीं करनी चाहिए दूसरों की गलतियों से सीख कर उन्हें ना दोहराने की कोशिश करनी चाहिए और यह जिंदगी का नियम ब्लॉगिंग में भी काम करता है। 

तो अगर आप एक बिजनेस है या ब्लॉग में कैरियर शुरू करना चाहते हैं तो भी आपको यहाँ  बताइ गलतियों से सबक लेना चाहिए। 

1. गलत Niche का चुनाव | Selection Of Wrong Niche 

किसी भी ब्लॉगर की यह सबसे बड़ी गलती होती है कि वह अपने ब्लॉक के लिए गलत niche  यानी कि गलत  विषय या टॉपिक का चुनाव कर ले। 

आप जब भी कोई सब्जेक्ट चुने अपने ब्लॉक के लिए, तो आपको सिर्फ यही सोचकर ब्लॉक शुरू  नहीं कर देना चाहिए कि  अभी कौन सा टॉपिक  चलन में है या फिर ट्रेंडी है।

क्योंकि अगर आप एक ऐसे niche का  चुनाव कर लेंगे जिसके बारे में आपको बहुत ज्यादा जानकारी नहीं है या आपका बिल्कुल भी इंटरेस्ट नहीं है तो आप उसको कब तक आगे लेकर जा सकेंगे। 

ज्यादा से ज्यादा आप उस पर 8 आर्टिकल लिख लेंगे 10 आर्टिकल लिख लेंगे लेकिन आप उसको लंबे समय तक नहीं चला पाएंगे और बीच में ही छोड़ देंगे। 

उदाहरण के  तौर पर जैसे कि अभी health niche  सबसे ज्यादा चलन में है आजकल लोग अक्सर इंटरनेट पर यही सर्च करते रहते हैं कि वह अपनी सेहत कैसे सुधारें, कौन-कौन सी सेहतमंद सब्जियों उन्हें खानी चाहिए, कौन-कौन सी उन्हें एक्सरसाइज करनी चाहिए इत्यादि।  

अगर  आपको बायलॉजी सब्जेक्ट में कोई रुचि नहीं है लेकिन आपने  हेल्थ सब्जेक्ट चुन लिया अपने ब्लॉक के लिए, जबकि ना तो यह आपका सब्जेक्ट है और ना ही इसमें आपको ज्यादा नॉलेज है तो आप इसको कितनी दूर तक ले जा पाएंगे कितने पोस्ट डाल सकेंगे यह सवाल अपने आपसे पूछना चाहिए?

इसलिए जब भी आप blog  शुरू करना चाह रहे हैं या फिर आपने जो भी blog niche   चुना है उसकी शुरुआत ऐसे विषय से ना करें जिसमें आपका इंटरेस्ट ना हो। 

2. ब्लॉग का गलत नाम | Wrong Name Of  Blog 

Blog  का गलत नाम चुनना भी आपको कई बार मुश्किल में डाल सकता है। जब भी आप किसी blog की शुरुआत करें तो सबसे पहले आपके दिमाग में सब्जेक्ट आता है कि मुझे इस सब्जेक्ट पर या इस टॉपिक पर सबसे ज्यादा नॉलेज है या मुझे इस टॉपिक के बारे में ज्ञान प्राप्त करने में अच्छा लगता है, तो मैं लोगों के साथ भी है इसे शेयर कर सकता हूं।

तो  जाहिर सी बात है आपका ब्लॉग भी उसी सब्जेक्ट से लिंक होना चाहिए। 

उदाहरण के तौर पर अगर आपको ट्रैवलिंग करना पसंद है और आप ट्रैवलिंग ब्लॉग बनाना चाह रहे हैं  तो आप ट्रेवल, जर्नी, इन सब चीजों से जुड़े हुए ही  नाम को अपने ब्लॉक के लिए रखेंगे।  तभी तो लोग को पता चलेगा कि आपका blog  ट्रेवल से जुड़ा हुआ हो सकता है और जो भी लोगों को ट्रेवल के बारे में पढ़ना अच्छा लगता होगा वह आपका ब्लॉग पर भी लेंगे। 

लेकिन अगर आप इसकी बजाय अपने blog  का नाम फनी या टेक्निकल  रख लेंगे तो लोगों को पता ही नहीं होगा कि आपका ब्लॉग किस बारे में है। लोग कंफ्यूज हो जाएंगे कि नाम तो टेक्निकल रख रखा है तो  blog भी टेक्निकल जानकारी के बारे में होगा, या फिर  नाम तो फनी रख रखा है तो  blog  भी फनी एलिमेंट के बारे में होगा और लोग  आपके ब्लॉग पर आएंगे ही नहीं आपकी पोस्ट पढ़िए ही नहीं। 

इसलिए  blog  बनाने से पहले उसके नाम को अच्छी तरह से सर्च ऐसे तीन चार नाम ढूंढ के रखें जो कि आपके सब्जेक्ट से रिलेटेड हैं  ताकि आपको उस नाम से ब्लॉग बनाने में कोई दिक्कत नहीं  आए। 

3. ऐसा सब्जेक्ट चुन लेना जिसमें लोगों का इंटरेस्ट ही ना हो | Choosing A Subject Nobody Is Interested In 

Blogging  करने के लिए  जब आप ने सबसे पहले  अपना पसंदीदा सब्जेक्ट डिसाइड कर लिया फिर आपको उस सब्जेक्ट से रिलेटेड जितने भी टॉपिक हैं चाहे वह मुश्किल है  या  आसान है या टेक्निकल है उन सब के बारे में लोगों को आसान भाषा का प्रयोग करते हुए बताना होगा।

यह  सब नए ब्लॉगर्स के लिए एक  बहुत ही जरूरी ब्लॉगिंग टिप्स है। 

आमतौर पर लोगों को कभी भी मुश्किल शब्दावली या कठिन टॉपिक पढ़ना पसंद नहीं होता है।  हालांकि यह बात जानना बहुत मुश्किल है कि लोगों के मन में क्या चल रहा है, लोगों को आप का सब्जेक्ट पसंद आ रहा है कि नहीं , या लोग  इस टॉपिक के बारे में क्या  जानना चाहते हैं ?  यह सारे सवाल काफी मुश्किल है क्योंकि  मनुष्य के मन में क्या चल रहा है वह किसी को नहीं पता होता है।  

हालांकि अगर आप कुछ  तरीकों का इस्तेमाल  करें तो यह पता लगाना ज़्यादा मुश्किल नहीं है। 

अगर आप पहले से ही ब्लॉगिंग(blogging)  कर रहे हैं तो  यह जानने के लिए कि लोगों का  आपके सब्जेक्ट यानी आपके niche  के बारे में क्या विचार हैं? आपको सबसे पहले अपने कमेंट सेक्शन में जाना होगा वहां देखिए कि लोग आपसे क्या रिक्वेस्ट कर रहे हैं वह किस टॉपिक पर  राधा जानकारी चाहते हैं, आप चाहें तो अपने आने वाले ब्लॉग में उनसे सजेशन भी मांग सकते हैं जो वह कमेंट सेक्शन में दे देंगे।

अब अगर आप एक नए ब्लॉगर हैं या blogging  में कैरियर अब शुरू करेंगे तो उसके लिए भी हमारे पास एक आईडिया है और वह यह है कि आप अपने मन में या अपने दोस्तों से यह बात सोचने के लिए कह सकते हैं कि इस niche से संबंधित कौन सी जानकारी लोगों के लिए उपयोगी होगी या लोगों के लिए उसे जानना जरूरी है या लोगों का उसमें इंटरेस्ट होगा या लोगों का उसमें इंटरेस्ट आप जगह सकते हैं  इत्यादि। 

यानी कुल मिलाकर आपको इस तरह से सोचना है कि अगर आप लोगों की जगह होते तो आपको इस niche  से संबंधित कौन सी जानकारी चाहिए होती?  जब आप  इस तरह से सोचना चालू कर देंगे  तो आप खुद फर्क देखेंगे कि लोग भी आप से कनेक्टेड होते चले जाएंगे। 

तो अब आपको पता चल गया होगा कि आपको यह  blog mistake (ब्लॉग मिस्टेक) भी नहीं करनी है। 

4. बिना आउटलाइन के लिखना शुरु कर देना | Start Writing Without An Outline 

सबसे बड़ी ब्लॉगिंग मिस्टेक(blogging mistake)  जो बिगिनर्स(beginners)  करते हैं वह यह है कि वह बिना आउटलाइन के अंधाधुंध लिखना चालू कर देते हैं।

ऐसा करने से आपका पोस्ट भले ही तैयार हो जाए लेकिन उसमें कई बार ऐसा होता है कि आप अपने मेन मुद्दे से भटक जाते हैं और इधर उधर की दूसरी चीजें जो कि जरूरी नहीं  थी आपके पोस्ट में डालना, वह डाल देते हैं। 

अब ऐसी चीजें डालने से होता क्या है? जो आपका जरूरी कंटेंट है वह रह जाता है।

इसलिए बहुत जरूरी है कि आप जब भी अपना टॉपिक चुन लें, उसके बाद आप उसकी एक आउटलाइन यानी कि एक खाका तैयार कर ले  और साथ ही साथ एक चेक लिस्ट भी बना ले, जिससे आपको पता चले कि आपको कौन से जरूरी पॉइंट अपने आर्टिकल में बिल्कुल रखने ही है चाहे कुछ भी हो।  

ऐसा करने से आप अपने पोस्ट में फालतू की चीजें डालने से भी बच जाएंगे और  एडिटिंग के समय अपना  काफी सारा टाइम भी बचा सकेंगे। 

तो यह भी एक बहुत बड़ी ब्लॉगिंग मिस्टेक( blogging mistake) है आपको इस ब्लॉग  मिस्टेक से भी सीखना चाहिए कि आपको अंधाधुंध  आर्टिकल लिखना चालू नहीं कर देना है। 

पहले एक खाका तैयार करके और सिस्टमैटिक तरीके से उस पर काम करना है। 

5. Worst ब्लॉगिंग मिस्टेक बिना रिसर्च के ब्लॉग लिख देना | Writing Blog Without An Outline  

नए नए ब्लॉगर यह भी आम गलती करते हैं कि वह बिना रिसर्च के अपना ब्लॉग लिखना चालू कर देते हैं। ऐसा वह इसलिए करते हैं क्योंकि जब वह शुरुआत में 5-10 ब्लॉग लिख लेते हैं तो उसके बाद उनको लगता है कि उनको ही सर्च करने की जरूरत नहीं है उनको सारी चीजें पता है। यह पूर्णतया गलत धारणा है। 

एक दिमाग से भले 2 दिमाग होते हैं, एक व्यक्ति की सोच से  भली अनेक व्यक्तियों की सोच होती है। अगर आप सिर्फ अपनी सोच के हिसाब से ही काम करेंगे तो आप लोगों तक भी वही पहुंचाएंगे  जो कि सीमित होगा एक व्यक्ति की सोच हमेशा सीमित ही होती है। 

लेकिन अगर आप ही सर्च करने में टाइम लगाते हैं तो इससे आपको अलग-अलग ideas मिल सकते हैं जिसकी मदद से आप अपने पोस्ट को अपने आर्टिकल को अच्छा दिखा सकते हैं। 

दूसरों से ने अपने ब्लॉग में जो गलतियां (blogging galtiyaan)की है आप उन्हें न  अपनाकर या फिर उनसे सबक लेकर अपने पोस्ट की  क्वालिटी भी सुधार सकते हैं और उसकी सर्च रैंकिंग भी  बढ़ा सकते हैं। 

तो इस ब्लॉगिंग मिस्टेक ( blogging mistake ) से भी आपको यह सबक मिला होगा कि आपको  पोस्ट लिखने से पहले एक बार ढंग से रिसर्च जरूर कर लेनी चाहिए।

6. Dangerous Blogging Mistakes- गलत जानकारी प्रस्तुत करना | Presenting Wrong Information 

कई बार एक्साइटमेंट में आकर या उत्साहित होकर, ब्लॉगर बिना वेरीफाई या सत्यापित  किए ही कोई जानकारी शेयर कर देते हैं। कई बार यह सही हो सकती है लेकिन कई बार यह चीज आपकी ब्लॉक की प्रतिष्ठा को मिट्टी में भी मिला सकती है। 

यह आपके ब्लॉग के लिए सबसे घातक ब्लॉगिंग मिस्टेक (worst blogging mistakes) भी हो सकती है। इसलिए जब भी आप कोई टेक्निकल, या  साइंटिफिक, या न्यूज़ , हेल्थ , घरेलू नुस्खे  इन सब से जुड़े कोई आर्टिकल लिखते हैं तो यह बात बहुत मायने रखती है कि यह इंफॉर्मेशन यह जानकारी बिल्कुल सत्य हो।   

अगर ऐसा नहीं  होता है  तो यह आपके viewers की हेल्थ के लिए घातक भी हो सकता है।  किसी इंसान को किस चीज से एलर्जी होती है यह किसी को नहीं पता होता इसलिए जब भी आप इस तरह का कोई आर्टिकल लिख रहे हैं जिसमें जानकारी का सच होना जरूरी है तो आप उसे अच्छी तरह वेरीफाई करें और उसके बाद ही लिखें। 

वेरीफाई(verify)  करने के लिए आप सरकारी साइट पर जा सकते हैं वहां पर बिल्कुल सत्य  जानकारी ही प्रस्तुत की जाती है।  तो आपके website  की मदद से अपने कंटेंट  मैं बिल्कुल सही जानकारी लोगों को बचा सकते हैं। 

7. ब्लॉग के पीछे अपना स्वार्थ सिद्ध करना | Selfish Motive Behind Starting A Blog  

कहीं ब्लॉगर्स का ब्लॉग बनाने के पीछे कुछ छुपा हुआ उद्देश्य होता है कई बार या उद्देश्य सबके लिए पॉजिटिव भी हो सकता है लेकिन कई बार यह उद्देश्य  आपके व दूसरों के लिए  बुरा भी साबित हो सकता है। 

अब यह ब्लॉगिंग मिस्टिक कैसे है? क्या ब्लॉगर्स को निस्वार्थ भावना से ही काम करना चाहिए? क्या ब्लॉगिंग से पैसे कमाने के बारे में नहीं सोचना चाहिए?

नहीं यहां पर हम आपको यह नहीं बोल रहे हैं कि आपको जैसे कि एक बिना लाभ वाली संस्था काम करती है वैसे आपको काम करना चाहिए। हमारे कहने का यह बिल्कुल भी मतलब नहीं है।  

हर किसी इंसान का अपना कुछ उद्देश्य होता है और होना भी चाहिए क्योंकि बिना उद्देश्य के इंसान कोई काम नहीं कर सकता ना ही कोई तरक्की  कर सकता है। 

यहां पर छुपा हुआ उद्देश्य जो किसी भी ब्लॉगर का होता है वही होता है कि वह ब्लॉग इसीलिए बनाते हैं ताकि वह अपने ब्लॉग के जरिए अपने बिजनेस को बढ़ा सकें, अपने सामान बेच सकें, अपनी सर्विस  बेच सकें या फिर वह जल्द से जल्द पैसे कमाने के चक्कर में, अपने ब्लॉग में इतने सारे एफिलिएट लिंक डाल देते हैं  इतने सारे एडवर्टाइजमेंट डाल देते हैं कि लोगों का उनका ब्लॉग पढ़ने का इंटरेस्ट खत्म हो जाता है। 

यह संभावना है के आपके कुछ भरोसेमंद व्यूअर, जो आपके ब्लॉक से काफी लंबे समय से जुड़े हुए हैं, वह कुछ महीने फिर भी एडजस्ट कर लेंगे, लेकिन कोई नया विवर(viewer)  अगर आपकी पोस्ट देखता है तो उस पर तो आपका यही इंप्रेशन पड़ेगा कि आप कितने ज्यादा लालची इंसान हैं कि हर जगह एडवर्टाइजमेंट या एफिलिएट लिंक ही डाल रखे हैं।

दोस्तों जैसा कि हमने अपनी आर्टिकल में आपको पहले भी बताया है कि blog  एक सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म होता है  जिसका मुख्य उद्देश्य यह होता है कि व्यक्ति अपने विचारों को दूसरे व्यक्तियों के सामने प्रस्तुत कर सके। 

लेकिन अगर आपके ब्लॉग बनाने के पीछे अनगिनत छुपे हुए उद्देश्य होंगे, तो यह बात ज्यादा दिनों तक आप छुपा नहीं पाएंगे और जब viewers  यह जाने लग जाएंगे कि आप कैसे उनको गलत प्रोडक्ट भी कमेंट कर रहे हो, या गलत चीज को बढ़ावा दे रहे हो, तो यह बात आपके ब्लॉग के लिए बिल्कुल भी  अच्छी नहीं है।

हर चीज लिमिट में अच्छी होती है  और लिमिट में रहेगी तो ही लोगों को भी कोई एतराज नहीं होगा। 

इसलिए आप भी ध्यान रखें कि आप एक पूरे माइंडसेट के साथ ब्लॉक बनाएं और इस ब्लॉगिंग मिस्टेक (blogging mistakes) से बचें।  

8. Viewers के कमेंट का रिप्लाई ना करना | Not Replying To Viewers Comments 

दोस्तों शुरुआत में तो ब्लॉगर जितने भी कमेंट होते हैं  उन सब को पढ़ते हैं उन सब का रिप्लाई भी देते हैं लेकिन कई बार जब उनका ब्लॉक थोड़ा -थोड़ा पुराना होता जाता है, कुछ महीने हो जाते हैं या फिर वह फेमस हो जाते हैं तो वह अपने कमैंट्स पर ध्यान नहीं देते हैं जो कि बहुत ही बड़ी ब्लॉगिंग मिस्टेक है। 

 इससे आपका इंप्रेशन आपके व्यर्थ की नजर में काफी खराब लगता है और वह धीरे-धीरे आपकी पोस्ट पर कमेंट ही करना बंद कर देते हैं। 

किसी भी ब्लॉग पोस्ट पर कमेंट आना बहुत जरूरी है। कई बार कमेंट हमारे लिए इतनी मददगार साबित होते हैं क्योंकि वर्ष हमें कुछ सजेशन देते हैं कुछ  सलाह देते हैं कि हम आपका अगला पोस्ट किस बारे में हो सकता है, वह टॉपिक आपको समझा सकते हैं, नए आईडिया साझा कर सकते हैं, वह आपसे कोई टॉपिक पूछ सकते हैं कि आप इसके बारे में ब्लॉक बनाइए।

जब हम सबको पता है कि हमारा ब्लॉक तभी प्रसिद्धि प्राप्त करेगा जब इस पर लोग कमेंट करेंगे इसके बारे में बात करेंगे इसको पड़ेंगे इसको शेयर करेंगे तो हमें भी लोगों को तवज्जो जरूर देनी चाहिए उनके सवालों के जवाब उन्हें देने चाहिए। 

ऐसा देखा गया है कि जो ब्लॉगर कमैंट्स का समय समय पर जवाब देते हैं वह काफी फायदे में रहते हैं, लोगों में उनकी इमेज भी अच्छी रहती है और लोग भी उनसे जुड़ाव महसूस करते हैं। 

कई सारे बड़े ब्लॉगर्स  या बड़े बिजनेस हाउस तो एक अलग टीम रखते हैं ताकि वह लोगों के सवालों के जवाब दे सके,  क्योंकि उन्हें मालूम है लोगों के विचारों की पावर कितनी ज्यादा है। 

इसलिए आप भी इस blogging mistake को नादोहराए और इससे सबक लें।  

Not Using Seo Worst Blogging Mistakes
Not Using Seo Worst Blogging Mistakes

9. Not Using Seo Worst Blogging Mistakes | Seo ना अपनाना

SEO  मतलब होता है सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन।  यह एक ऐसा तरीका है जिसकी मदद से आप का पोस्ट गूगल की सर्च रैंकिंग में पहले पेज पर  आ सकता है या फिर पहली रैंक हासिल कर सकता है। 

आपके ब्लॉगिंग केरियर में सबसे इंपोर्टेंट बात यही है कि आपको seo का प्रयोग करना आना चाहिए। क्योंकि जाहिर सी बात है अगर आप ऐसे कैसे मानी करेंगे तो गूगल एनालिटिक्स(google analytics)  आपके पोस्ट को समझ ही नहीं पाएगा और समझ नहीं पाएगा तो आपको रैंकिंग कैसे दिलाएगा और रैंकिंग में दिलाएगा तो बहुत ही कम लोग आपके पोस्ट को पड़ेंगे। 

अब यह बात तो आप भी जानते हैं कि जब भी हम लोग गूगल पर सर्च करते हैं तो हम पहले 5 या 10 पोस्ट को ही पढ़ना पसंद करते हैं दूसरे तीसरे पेज पर तो कोई भी नहीं जाता। 

तो अगर आप एक बिगिनर हैं और आप seo के बारे में नहीं जानते हैं तो पहले आपको seo  के बारे में जानकारी प्राप्त कर लेनी चाहिए और यह देख कोशिश करनी चाहिए  की किस प्रकार आपका आर्टिकल seo  फ्रेंडली बने। 

10. Worst Blogging Mistakes Getting Frustrated Early | जल्दी हताश होना 

कई बार लोग दूसरे bloggers को देखकर उनके जैसे ब्लॉगर बनने का सपना देखते हैं जो कि बिल्कुल ठीक बात है। हर कोई यह चाहता है कि वह अपनी मंजिल को जल्द से जल्द  प्राप्त कर  सके। इसमें कोई गलत बात भी नहीं है, अगर आप किसी और दूसरे व्यक्ति से इंस्पिरेशन लेकर ब्लॉगिंग करना चाहते हैं। 

यहां सबसे बड़ी मिस्टेक जो बिगिनर्स या कोई भी व्यक्ति जो भी ब्लॉगिंग स्टार्ट कर रहा है या करने वाला है वह यह है कि वह यह सोचने लग जाते हैं कि उनका ब्लॉग पहली पोस्टिंग के साथ ही  वायरल हो जाए जो कि बिल्कुल ही गलत धारणा है। 

आजकल वायरल पोस्टिंग, यह वायरल वीडियोस का बहुत ज्यादा चलन है। लेकिन आप भी यह बात जानते हैं और नहीं जानते तो हम आपको बता रहे हैं कि जो भी कंटेंट वायरल होता है वह सिर्फ एक बार के लिए वायरल जरूर हो जाता है कई लाखों करोड़ों लोग उसको एक बार तो देख लेंगे लेकिन क्या वह उस चैनल पर या उस ब्लॉग पर लगातार विजिट करते हैं।  

जी नहीं,  यह बात तो पूरी दुनिया जानती है एकता तो किसी का भी लग जाता है तो वायरल वीडियो जो वायरल ब्लॉग पोस्ट भी ऐसे ही होते हैं जो कि एक ही पोस्ट से एक ही वीडियो से किसी भी इंसान को पॉपुलर बना दें।

इसलिए आपको सिर्फ आपके काम पर ध्यान देना है ज्यादा से ज्यादा पोस्ट डालनी है, रेगुलर पोस्ट डालनी है ताकि लोगों का ध्यान आपके ब्लॉग पर आए। 

हो सकता है आपको शुरुआत के 10-20 पोस्ट तक  बहुत ज्यादा रेस्पॉन्स ना मिले  फिर भी आपको लगातार कोशिश करते रहना है हताश बिल्कुल भी नहीं होना है। क्योंकि  यह बात तो आप भी मानेंगे  की एक ही दिन में तो आप पढ़ना नहीं सीख गए हैं,  उसमें भी आपको कई साल लगे हैं, तो ब्लॉगिंग भी कुछ  समय तो मांगेगी  ही। 

11. Fatal Blogging Mistakes Non Timely Publishing Of Post | समय पर पोस्ट पब्लिश ना करना

सबसे घातक ब्लॉगिंग मिस्टेक (fatal blogging mistakes) में  से एक यह मिस्टेक है  जो कि  है समय पर पोस्ट पब्लिश ना करना। 

Blogging (ब्लॉगिंग) में आपको टाइम देने की जरूरत है। 

आप ऐसा नहीं कर सकते कि 10-15 पोस्ट  तो रेगुलर डाली  लेकिन उसके बाद आप आलस कर रहे हैं, या किसी महीने ज्यादा पोस्ट डाल देते हैं, किसी महीने बिल्कुल पोस्ट नहीं डालते ऐसा करने से आपके ब्लॉग पर बुरा प्रभाव पड़ता है। 

सभी व्यूअर(viewer)  जो भी आपके ब्लॉग पोस्ट के इंतजार करते हैं उनके मन में भी यह बात घर कर जाती है कि आप तो  समय पर पोस्ट डाली नहीं रहे हैं तो फिर वह अपना टाइम आपके ब्लॉग पर क्यों वेस्ट करेंगे। 

इसलिए आपको भी एक समय डिसाइड कर लेना चाहिए जैसे कि आप कोशिश करें कि अगर आप दूसरे भी काम कर रहे हैं तो आप हफ्ते में दो पोस्ट तो जरूर डालें अगर आप हफ्ते में दो पोस्ट भी डालते हैं तो 1 महीने में आपकी आराम से 8 से 9 पोस्ट हो जाएंगी जो कि आपके ब्लॉक को एक्टिव रखने के लिए काफी हैं। 

तो अगर आप ब्लॉगिंग को part-time कर रहे हैं तो भी एक हफ्ते में दो पोस्ट बहुत बड़ी बात नहीं है आप भी ऐसा आसानी से कर सकते हैं और अपने भी औरत के नजर में भी नियमितता बनाये रख सकते हैं। 

12. अपने ब्लॉग या पोस्ट को अपडेट ना करना | Non Updation Of Blog Post 

कई बार जो पहले से इस्टैबलिश्ड ब्लॉगस हैं उनसे भी यह गलती हो जाती है कि वह अपने ब्लॉग पोस्ट को अपडेट नहीं करते हैं। 

 कई बार कुछ ऐसे ब्लॉक्स होते हैं जो कि अपडेशन मांगते हैं  उदाहरण के तौर पर  न्यूज़ वाले ब्लॉग्स, जनरल नॉलेज वाले ब्लाउज,  करंट अफेयर्स वाले ब्लॉग्स, पढ़ाई के सिलेबस वाले  ब्लॉग्स,  क्वेश्चन पेपर वाले  ब्लॉक इत्यादि।  इन सभी ब्लॉक में आपको अपनी इंफॉर्मेशन को अपडेट करना बहुत जरूरी है। 

 इसका एक और उदाहरण हम आपको देते हैं जैसे कि आपने अपने ब्लॉग में बता रखा है कि दुनिया की सबसे बड़ी बिल्डिंग कौन सी है। अब हो सकता है कि 2 साल बाद कोई दूसरी बिल्डिंग दुनिया की सबसे बड़ी बिल्डिंग बन जाए। अब अगर आप अपने ब्लॉग को अपडेट नहीं करेंगे तो यह गलत इंफॉर्मेशन सब लोगों तक पहुंचेगी और लोग नेगेटिव कमेंट करेंगे। 

इसलिए यह बहुत जरूरी है कि अगर आपने अपने पोस्ट में इस तरह का कोई कंटेंट डाला है सिलेबस से संबंधित या जनरल नॉलेज से संबंधित या सरकार की किसी स्कीम के बारे में  तो आप उन्हें अपडेट करना ना भूलें। 

13. अपने बिजनेस का प्रमोशन करना | Promoting Your Business 

अगर आप अपने  ब्लॉक का इस्तेमाल अपने बिजनेस प्रमोशन के लिए कर रहे हैं,  तो इसमें कुछ गलत नहीं है लेकिन अगर आपने अपना ब्लॉग सिर्फ इसी लिए बनाया है कि आप  अपने बिजनेस का प्रमोशन कर सकें,  तो यह आपकी सबसे बड़ी ब्लॉगिंग मिस्टेक है। 

 इससे होगा क्या के आप  कुछ समय तक तो अपने ब्लॉक को लेकर मोटिवेटेड रहेंगे कई लोग आपके प्रोडक्ट खरीद ने में दिलचस्पी भी लेंगे और शायद खरीद भी लेंगे लेकिन जब  आपके प्रोडक्ट की बिक्री यानि सेल्स एक ही लेवल पर होती रहेगी जबकि आप चाहते हैं कि आप ज्यादा से ज्यादा प्रोडक्ट बेच कर पैसे कमाए आपने तो इसीलिए  यह ब्लॉक स्थापित किया था। 

तो ऐसे में आपकी हिम्मत जवाब देने लग जाएगी और आप निराश होने लग जाएंगे और धीरे-धीरे आपका इंटरेस्ट अपने ब्लॉग से हट जाएगा।  इसीलिए हर चीज का एक बैलेंस होना बहुत जरूरी है। 

यह बिल्कुल सच बात है कि आप ब्लॉग का इस्तेमाल अपने बिजनेस को प्रमोशन करने के लिए भी कर सकते हैं लेकिन अगर आप सिर्फ इसीलिए ही ब्लॉगिंग कर रहे हैं कि आपके ज्यादा प्रोडक्ट बीके, तो यह  चीज ना तो आपके लिए ना आपके व्यूवर्स के लिए और ना ही आपके भावी कस्टमर्स के लिए सही चीज है। 

आपको भी इस ब्लॉगिंग मिस्टेक (fatal blogging mistakes) से बचना चाहिए। 

14. बहुत ज्यादा seo कर लेना | Excessive Usage Of Seo 

जैसा कि हमने आपको पहले भी बताया की seo  क्या मतलब होता है, लेकिन एक बार फिर से बता देते हैं  की seo मतलब होता है सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन। यह एक ऐसा तरीका है जिसकी मदद से आप का पोस्ट गूगल की सर्च रैंकिंग में पहले पेज पर  आ सकता है या फिर पहली रैंक हासिल कर सकता है। 

अब इस तरीके का इस्तेमाल लिमिट में किया जाए फिर तो यह  अच्छे से काम भी करता है और अच्छा रिजल्ट भी देता है।   

मगर कई बार ब्लॉग पोस्ट की  सर्च इंजन पर रैंकिंग सुधारने के लिए  ब्लॉगर seo  टेक्नोलॉजी  का बहुत अधिक यूज  कर लेते हैं। जहां जरूरत नहीं होती वहां पर भी कीवर्ड्स घुसा देते हैं और एक ही पैराग्राफ में दो से तीन बार कीवर्ड्स इस्तेमाल करने लग जाते हैं ताकि उनके पूरे आर्टिकल में कीमत की भरमार हो और जब भी कोई सर्च करें तो उनका  पोस्ट  सर्च  इंजन की रैंकिंग में आ सके।

एक strategy  के तौर पर देखा जाए तो seo  के इस्तेमाल से  आपको लाभ हो सकता है। 

यह भी हो सकता है कि आपकी  पोस्ट गूगल सर्च रैंकिंग में  पहले ही पेज पर आ जाए। 

लेकिन यह आपकी  इमेज और आपकी व्यूवर्स के लिए सही नहीं है। क्योंकि होता क्या है जब आप बहुत ज्यादा कीवर्ड का इस्तेमाल कर लेते हैं तो पढ़ने वाले को भी यह समझ में आ जाता है और पढ़ने में जब बार-बार एक ही चीज आएगी तो इंटरेस्ट अपने आप खत्म हो जाएगा। 

इसलिए आपको यह कोशिश करनी चाहिए के keywords  का सही  मात्रा में,  सही जगह पर और ध्यान से  इस्तेमाल करें  और इस ब्लॉगिंग मिस्टेक( blogging mistakes) से बचें। 

कई बार यह देखा गया है कि ब्लॉगर हद से ज्यादा एफिलिएट लिंक(affiliate link)  शेयर करते हैं। बार-बार इसकी तरफ संकेत भी करते हैं अपने  प्रभाव का इस्तेमाल करके लोगों को मजबूर करते हैं कि वह भी इस चीज को जिसका भी है affiliate link दिया हुआ है उसको खरीदें।  

ज्यादातर जो भी bloggers  ऐसा करते हैं वह खुद उस प्रोडक्ट को यूज नहीं करते हैं और वह लोगों को कहते हैं कि आप इस प्रोडक्ट को यूज करें वह सिर्फ इसे अपना स्वार्थ सिद्ध करने के लिए ही करते हैं ताकि उन्हें उनका कमीशन मिल जाए। 

ऐसे लोगों को अपना कमीशन तो मिल जाता है लेकिन लोगों का भरोसा ही छिन जाता है। 

जाहिर सी बात है जिस भी इंसान आप के प्रभाव में आकर कोई एफिलिएट लिंक पर क्लिक करके प्रोडक्ट मंगाया है अगर वह प्रोडक्ट क्वालिटी वाल्स अच्छा नहीं है तो जाहिर सी बात है कि इससे आपका भी इंप्रेशन खराब होगा। 

भले ही इस बात का अंदाजा आपको उस वक्त तो नहीं लगेगा क्योंकि उस वक्त तो आपको अपना कमीशन दिखाई देगा  लेकिन आपके बहुत ज्यादा एफिलिएट लिंक शेयर करने से और लोगों में असंतुष्ट था बढ़ने से  आपके ब्लॉग पर और आपकी मेज पर बुरा असर पड़ेगा। 

इसलिए आपको  एफिलिएट लिंक (affiliate link )शेयर करने वाली ब्लॉगिंग मिस्टेक (fatal blogging mistakes )से भी बचना चाहिए। 

16. सोशल मीडिया प्रमोशन ना करना | Not Promoting Blog On Social Media 

आपके ब्लॉगिंग करियर की सबसे वर्स्ट ब्लॉगिंग मिस्टेक ये  हो सकती है कि अगर आपने अपने ब्लॉग को अपने दूसरे सोशल मीडिया  प्लेटफार्म पर शेयर ना किया हो या जिक्र ना किया हो  या अपने ब्लॉग का लिंक  अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर ना किया हो। 

 देखिए ब्लॉगिंग आपके लिए फिर भी नयी चीज हो सकती है लेकिन कोई सा भी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे की फेसबुक टि्वटर इंस्टाग्राम लिंकेडीन  टेलीग्राम इत्यादि  यह सब आपके लिए नए नहीं है  आप सब इसका पहले से ही इस्तेमाल करते आ रहे होंगे अपने ब्लॉगिंग  चैनल को अगर आप  बढ़ाना चाहते हैं तो आपके पास ज्यादा दिवस आएंगे कहां से जाहिर सी बात है इन्हीं प्लेटफार्म के जरिए आपके पास आपके विवर आएंगे  और अगर उन्हें आपका ब्लॉग पसंद आया तो  सब लोग इसके पोस्ट को भी अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर करेंगे जो कि आपके लिए  एक बड़ी उपलब्धि की बात है। 

17. बैकलिंक ना देना | Not Giving Backlink In Your Post 

Backlink (बैकलिंक) एक बहुत ही जरूरी चीज है। इसका मतलब यह होता है कि अगर आपने  पहले से अपने ब्लॉग पर 4 पोस्ट लिखी है  तो अब जब आप पांचवी पोस्ट डालेंगे तो आप अपनी चारों या चारों में से किसी एक या दो पोस्ट  का लिंक  अपनी नई पोस्ट पर जरूर शेयर करे।

इसको करने से क्या होगा कि अगर  किसी को आपकी पहले वाली पोस्ट  में जो जानकारी दी गई है उसे पढ़ने में इंटरेस्ट है या वह आपकी नई वाली पोस्ट से कनेक्टेड है तो लोग उसे जरूर जाकर पढ़ना पसंद करेंगे और इससे आपका काम हो जाएगा आपके भी पुरानी वाली पोस्ट पर व्यूज और बढ़ जाएंगे। 

साथ ही साथ अगर आपने अपने ब्लॉगिंग चैनल को पहले से ही  ऐडसेंस अकाउंट से जोड़ रखा है तो पुराने पोस्ट पर अगर न्यूज़ बढ़ते हैं तो आपको उसके भी पैसे मिलते रहेंगे साल दर साल ,  तो आपके लिए तो यह win-win सिचुएशन है। 

इसलिए आपको  बैकलिंक्स(backlinks)  की पावर को बिल्कुल भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए और इतनी बड़ी blogging mistakes करने से बचना चाहिए।

18. भारी थीम का प्रयोग  | Using Heavy Themes 

यह अक्सर देखा गया है कि नए ब्लॉगर अपने ब्लॉग को अलग दिखाने के लिए आकर्षक बनाने के लिए कुछ भारी थीम्स का इस्तेमाल कर लेते हैं। अब इससे होता क्या है कि  आपका ब्लॉग तो बहुत शानदार दिखेगा, लोग उसकी तरफ आकर्षित भी होंगे, हो सकता है कई लोग आपके ब्लॉग पर के कलर या theme  देखकर ही आपके पोस्ट पढ़ने के लिए आए हो। 

लेकिन इसकी एक हानि यह है के अगर आपने कोई भारी टीम सिलेक्ट कर रखी है अपने  ब्लॉग के लिए,  तो आपकी साइट (site) या आपका ब्लॉग पेज खोलने में ही इतना टाइम या लोड होने में ही इतना टाइम लगा लेगा कि लोग आपके ब्लॉग पर आएंगे तो जरूर लेकिन बिना पढ़े ही वापस लौट जाएंगे।

ऐसा हो भी क्यों ना क्योंकि आज  का जमाना इंटरनेट का है जिस की स्पीड बहुत तेज है लोग अपना एक भी सेकंड फालतू में वेस्ट नहीं करना चाहते अगर आपका पोस्ट नहीं खुलेगा तो वह किसी और उस पर जाकर वह इंफॉर्मेशन देख लेंगे उन्हें तो बस इंफॉर्मेशन लेने से मतलब होता है।

तो इतनी बड़ी ब्लॉगिंग मिस्टेक (blogging mistakes) ना करें और भारी थीम्स का प्रयोग ना करें,  क्योंकि थीम्स आपकी ब्लॉग को तो अट्रैक्टिव बना लेगी  लेकिन  लोगों को कैसे रोक पाएगी। 

अपने ब्लॉग को मोनेटाइज ना करना
अपने ब्लॉग को मोनेटाइज ना करना

19. अपने ब्लॉग को मोनेटाइज ना करना | Non Monetization Blog 

कई सारे लोग जो भी blogging  करते हैं  उनमें से ज्यादातर को तो यह बात पता ही नहीं होती है के वो blog से भी पैसे कमा सकते हैं  और अगर पता भी होती है तो कमा  कैसे सकते हैं यह नहीं पता होता। 

जिस वजह से उनका बहुत सारा टाइम वेस्ट हो जाता है। वह साल भर अच्छे-अच्छे पोस्ट तो करते रहते हैं लेकिन उससे उन्हें एक  भी रुपए की कमाई नहीं होती। जब कमाई नहीं होती तो फिर उनको ब्लॉक पर बने रहने का मोटिवेशन भी नहीं आता कि इसमें तो बहुत ज्यादा टाइम लगता है।

किसी भी blog को मोनेटाइज (monetize) करने के लिए ऐडसेंस का अप्रूवल लेना जरूरी होता है जिसमें भी थोड़ा टाइम लगता है और क्योंकि ऐडसेंस अप्रूवल देते वक्त गूगल यह भी देखता है कि आपने कितने पोस्ट किए हैं, लोग आपके पोस्ट पर  कितने कमेंट करते हैं आप के ब्लॉक का कितना वैल्यू है, कितने व्यूअर आपके ब्लॉग से जुड़े हुए हैं इत्यादि।

इसके अलावा भी आपको कई शर्तों का पालन करना पड़ता है जैसे कि आपको पेपल (paypal account )अकाउंट बनाना पड़ता है क्योंकि गूगल आपके बैंक अकाउंट में नहीं पेमेंट करेगा वह पेपल अकाउंट में पेमेंट करेगा और वह पर पहला कांड आपके बैंक से जुड़वा होगा। 

अब अगर आपको पहले से ही पेपल अकाउंट के बारे में या गूगल ऐडसेंस के बारे में पता है तो आपको यह चीज है करने में ज्यादा समय नहीं लगेगा क्योंकि आपको ज्यादा खोज नहीं करनी पड़ेगी।

लेकिन अगर आपको इनके बारे में पहले पता नहीं था और आप blog ऑलरेडी शुरू कर चुके हैं तो अब आपका काफी ज्यादा टाइम इन सब चीजों की फॉर्मेलिटीज में ही लग जाता है। 

इसलिए अगर आपने भी ब्लॉग अभी-अभी शुरू किया है या करने वाले हैं तो ऐडसेंस के बारे में सारी चीजें पहले से ही जान ले और अपना समय बर्बाद होने से बचा लें। 

20. ब्लॉगिंग टेक्निकलटीज़ पर ध्यान ना देना | No Attention Towards Bloggin Technicalities 

कई सारे लोग ब्लॉगिंग की दुनिया में कदम रखकर,ब्लॉगिंग करना शुरू कर देते हैं लेकिन उन्हें ब्लॉगिंग(blogging)  की बेसिक टेक्नोलॉजीज (technologies)  और टर्मिनोलॉजिस(terminologies)  के बारे में सही से जानकारी ही नहीं होती। 

कुछ समय तो उनका आसानी से और आराम से निकल जाता है लेकिन फिर जब ब्लॉग (blog)  पर नए अपडेशन आते हैं, तो उन्हें बहुत समस्या आती है और कई बार यह समस्या इतनी भी बढ़ जाती है कि उनका ब्लॉग ही बंद हो जाता है, सारी मेहनत, सारा काम एक तरह से ठप हो जाता है। 

इसलिए ब्लॉगिंग शुरू करने से पहले ब्लॉक के बारे में सारी जानकारी इकट्ठा करें। कौन सी टर्मिनोलॉजी होती है? कौन सी ऐसी चीजें होती है जिनके बारे में आपको पता होना चाहिए।

उन सब के बारे में जानकारी ले लें  और अपने आप को इतनी बड़ी ब्लॉगिंग मिस्टेक करने से बचाये। 

21. बिना इमेज या वीडियो के ब्लॉग बनाना | Blogging Without Videos And Images 

कई सारे नए ब्लॉगर को यह भ्रम होता है कि ब्लॉग पर सिर्फ लिखने का ही काम है या फिर उन्हें यह ओवरकॉन्फिडेंस होता है कि उनकी राइटिंग इतनी अच्छी है कि लोग उनके पोस्ट जरूर पड़ेंगे। 

अब यहां पर यह सोचने वाली बात है कि आपको ऐसे कितनी किताबें पढ़ना पसंद है जिसमें एक भी पेज पर कोई भी फोटो नहीं है। क्या आपको ऐसी किताबें पढ़ना पसंद है और अगर आपको पढ़ना पसंद भी है तो भी, क्या।

ज़्यादातर लोगों को इमेजेस(images)  बहुत पसंद होती हैं। लोग इमेजेस देखना बहुत पसंद करते हैं और कई लोग तो किताब का कवर देखकर भी इसीलिए किताब लेते हैं कि cover  अच्छा है तो किताब भी अच्छी होगी। हालांकि ये बात सही तो नहीं है लेकिन फिर भी ब्लॉक के बारे में तो यह बात सही है।

जी हां, अगर आपको अपना blog  आकर्षक बनाना है, तो आप अपने ब्लॉग में इमेजेस का प्रयोग कर सकते हैं। इसमें आप अगर हाई क्वालिटी की भी इमेज का प्रयोग कर रहे हैं, तो आप उसको  कंप्रेस(compress)  करके इस्तेमाल कर सकते हैं, ताकि आपका ब्लॉग भी लोड होने में टाइम ना लगाएं और आप अपने व्यूअर को  अपने ब्लॉग पर बने रहने का कारण भी दे दे। 

इमेज(image)  लगाने से आपकी पोस्ट अट्रैक्टिव लगती है और लोगों का ध्यान आकर्षित करती है।  इससे बोरियत भी नहीं होती  है।  कई बार तो कई ऐसे कौन से होते हैं जो इमेज से ज्यादा बड़ी जल्दी समझ में आ  जाते हैं ना ही पड़ने पर।  इसलिए जितना हो सके उतना अपने ब्लॉग पोस्ट पर इमेज का इस्तेमाल जरूर करें।  

आखिर कितनी इमेजेस का इस्तेमाल आपको करना चाहिए?

अगर हम बात करें कि आपका बblog 1000 का है आप इसमें एक या दो  इमेज का इस्तेमाल  कर सकते हैं। लेकिन अगर आपका ब्लॉग 1000 शब्द से ज्यादा का है तो आप उसमें चार या पांच मैच का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।  

हालांकि यह सिर्फ एक उदाहरण है कि आपको कितने इमेजेस का इस्तेमाल करना चाहिए। 

आप इससे ज्यादा images का भी इस्तेमाल कर सकते हैं, क्योंकि कई ऐसे पोस्ट होती है  जिनमें काफी सारी इमेजेस का इस्तेमाल करना होता है। 

जैसे कि ट्रैवल ब्लॉगर्स की पोस्ट।

अगर कोई आपको यह बता रहा है कि टॉप 5 होलीडे डेस्टिनेशन कौन सी है तो जाहिर सी बात है वह कम से कम पांच तो इमेजेस लगाएगा  ही। 

 इसलिए यह बात आपके पोस्ट पर भी निर्भर करती है कि आपकी पोस्ट की मांग क्या है। 

हालांकि यहां पर आपको यह भी ध्यान देने की जरूरत है कि आपको इमेजेस सिर्फ आपकी पोस्ट को थोड़ा सा इंटरेस्टिंग  बनाने के लिए इस्तेमाल करनी है आपको ज्यादा इमेजेस इस्तेमाल करके इसको  कॉमिक  बुक नहीं बनाना  है। 

दूसरी चीज है वीडियोज(videos) । आप अपने ब्लॉग पोस्ट में वीडियोस का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। यह वीडियोस वह भी हो सकते हैं जो आपने खुद की यूट्यूब चैनल पर बनाएगा या फिर यह कोई किसी और चैनल के भी हो सकते हैं जो आप अपने ब्लॉग पर प्रमोट करना चाहते हो या फिर यह किसी कंपनी के भी हो सकते हैं जिसका आप एफिलिएट लिंक अपने ब्लॉग पोस्ट में दे रहे हो। 

जैसे भी हो लेकिन अगर आप अपने पोस्ट में वीडियो कैसे माल करते हैं तो वह भी एक अच्छा उपाय है आपके वीडियो को बोरिंग होने से बचाने के लिए। 

खास तौर पर अगर आप अपने यहां अपने किसी दोस्त के यूट्यूब वीडियो का इस्तेमाल कर रहे हैं तो आपको सबसे ज्यादा फायदा होगा।  क्योंकि ऐसा करने से आपके दोस्त का भी भला हो जाएगा उसको भी व्यूज  मिल जाएंगे और जो आपके दोस्त के यूट्यूब चैनल के सब्सक्राइब होंगे वह भी आपके पोस्ट को पढ़ लेंगे तो दोनों के लिए ही है फायदे की बात है। 

मुझे लगता है अब आपको समझ में आ गया होगा कि आप बिना image , photos  या वीडियो किए ब्लॉगिंग करने की मिस्टेक (blogging mistake) नहीं करेंगे। 

Blogging Mistakes for Small Business

हमने आपको अब तक 21 blogging mistakes for beginners के बारे में बताया है। 

हमने बताया ऐसी fatal blogging mistakes के बारे में जो बिगिनर्स(beginners)  या नए ब्लॉकर्स (new bloggers )आमतौर पर करते हैं।  आपको यह blogging mistakes बिल्कुल नहीं दोहरानी है। 

अब हम आपको बताने जा रहे हैं blogging mistakes for small business, यानी कि छोटे व्यापारी या छोटे बिजनेस हाउस  ऐसी कौन कौन सी fatal blogging mistakes करते हैं अपने प्रोडक्ट के प्रमोशन करने के टाइम,  जो कि उनकी ब्लॉगिंग के सफर  की सबसे बड़ी  ब्लॉगिंग गलती यानी blogging mistakes हो सकती है। 

 तो चलिए शुरू करते हैं। 

1. राइटिंग में गलतियां करना | writing mistakes 

छोटे बिजनेसेस की सबसे बड़ी गलती यह होती है कि उनको अपने प्रोडक्ट के बारे में लोगों तक जानकारी पहुंचाने की इतनी जल्दी होती है कि वह लिखने में ही आने की अपने कांटेक्ट को डिवेलप करते टाइम ही कई सारी गलती कर देते हैं,  जो कि  यह प्रदर्शित करती है कि आप अपने ब्लॉगिंग को लेकर बिल्कुल भी सतर्क  और नहीं है। 

हालांकि अगर आपके सिर्फ दो पोस्ट में ही गलतियां हैं और काफी कम गलतियां हैं तो लोग उसको  कुछ हद तक नजरअंदाज भी कर देंगे  यह तो  मानवीय गलती है,  लेकिन अगर आप की ज्यादातर पोस्ट होती है जिसमें आप बिना प्रूफ सेंड करें अपने पोस्ट को पब्लिश कर देते हैं ताकि जल्द से जल्द और ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाएं तो  ऐसी गलतियों का आपकी  इमेज पर  बुरा असर पड़ता है। 

इसलिए हमारी यही सलाह है कि आप जब भी कोई पोस्ट पब्लिश करने वाले हैं  तो ढंग से उस को प्रूफ एडिट करें, देखें कि आपने उसमें कोई गलती तो नहीं की है, ग्रामर चेक करे। 

देखे के आपने जो शब्द प्रयोग किये है उनका मतलब तो सही निकल रहा है या नहीं, कहीं आपने सेंटेंस बनाने में तो कोई गलती नहीं करी है या  आपने जो भी फैक्ट उसमें बताए हैं वह सही तो है ना। 

सबसे पहले इन सारी चीजों को वेरीफाई करें उसके बाद ही अपना  पोस्ट करें। 

2. अपने टारगेटेड niche से  भटकना | Deviation from Targeted Niche 

अक्सर छोटे व्यापारी कुछ पोस्ट पर अच्छे व्यूज आ जाने के बाद अधिक उत्साहित हो जाते हैं और ज्यादा से ज्यादा पोस्ट डालने के चक्कर में अपने टारगेटेड निश्चय ही भटक जाते हैं जो कि आपकी ब्लॉग की इमेज के लिए बिल्कुल भी सही नहीं है। 

ऐसा करने से भी आपके ब्लॉक की इमेज पर नेगेटिव प्रभाव पड़ता है और लोगों को भी यह पता चल जाता है कि आप सिर्फ टाइमपास के लिए blogging करते हो या आपने किसी प्रोडक्ट या सर्विस की प्रमोशन के लिए या फिर अपने किसी छुपे हुए मकसद को पूरा करने के लिए ही ब्लॉगिंग कर रहे हैं, आपका लोगों को ज्ञान बांटने का या उनकी मदद करने का उद्देश्य नहीं है। 

और जब यह बात सबके सामने खुल जाती है तो लोग आपके ब्लॉग से किनारा करने लग जाता है जाहिर सी बात है अगर आप सिर्फ अपना ही स्वार्थ सिद्ध करने में लगे रहेंगे तो आप लोगों को अच्छी सर्विस कैसे दे पाएंगे। 

इसलिए  हमारी यही सलाह है कि जितने भी स्मॉल बिजनेस हैं या व्यापारी हैं वह इतनी बड़ी ब्लॉगिंग गलती (fatal blogging mistakes) करने से बचें। 

3. हद से ज्यादा बिजनेस प्रमोशन करना | Excess Business Promotion 

छोटे बिजनेस की सबसे बड़ी गलतियों में से एक यह भी है कि  अक्सर वे लोग अपनी ब्लॉग पोस्ट में हद से ज्यादा बिजनेस प्रमोशन करते हैं। 

जैसा कि हमने आपको ऊपर वाले पॉइंट्स में  भी बताया था कोई भी व्यक्ति उस blogger के ब्लॉक पोस्ट पढ़ना ज़्यादा  पसंद करता है जो उन्हें वैल्यू ऐड (value add) करके दे।

अब यहां पर value add (वैल्यू ऐड) करने का मतलब यह है कि आपका पोस्ट ऐसा होना चाहिए जो लोगों को या तो किसी प्रकार की जानकारी दें, या उनकी कोई समस्या का समाधान बताएं, या उन्हें मोटिवेट करें और उनके समय का मूल समझे।

आज का जमाना काफी तेज है हर किसी को जल्द से जल्द जानकारी चाहिए होती है, तो जाहिर सी बात है एक बहुत बड़ी पोस्ट मैं फालतू बातें पढ़ने के बजाय कोई भी व्यक्ति  कोई छोटी पोस्ट या फिर ऐसी पोस्ट को पढ़ना ज्यादा पसंद करेंगे, जिसमें उनकी प्रॉब्लम का डायरेक्ट सॉल्यूशन बताया गया हो। 

अब अगर आप अपनी पोस्ट में हद से ज्यादा  अपने प्रोडक्ट या सर्विस या अपने बिजनेस का प्रमोशन करते रहेंगे  तो लोगों का समय अधिक जाया होगा और वह आपके पोस्ट को इग्नोर(ignore) करना शुरू कर देंगे। 

4. अपने व्यूअर के कमैंट्स ना पढ़ना | not reading viewers comments 

अपने विवर्स के कमेंट ना पाना यह भी एक बहुत बड़ी ब्लॉगिंग ठीक है जो कि अक्सर लोग थोड़ी प्रसिद्धि प्राप्त करने के बाद भूल जाते हैं। 

अक्सर ऐसा देखा गया है  के  bloggers  शुरुआत में तो  व्यूवर्स के कमेंट पर काफी ध्यान देते हैं उन्हें रिप्लाई भी करते हैं,  उनके सजेशन को भी स्वीकार करते हैं उनसे कोई सलाह भी लेते हैं लेकिन जैसे-जैसे उनका ब्लॉग थोड़ा-थोड़ा प्रसिद्ध होता जाता है वह अपने का धन्यवाद करना उनकी वैल्यू करना भूल जाते हैं। 

हो सकता है कि किसी की इतनी ज्यादा फैन फॉलोइंग हो गई हो कि वह सब का रिप्लाई नहीं कर सकते लेकिन फिर भी आपको लोगों से कनेक्ट करने की कोशिश जरूर करनी चाहिए क्योंकि अगर आप किसी का भी रिप्लाई नहीं करेंगे तो  लोगों का आप से जुड़ाव कम होता जाएगा  और यह आपके ब्लॉग के लिए भी और आपके small business के लिए भी अच्छी बात नहीं है। 

इसलिए हमारी यही सलाह है कि जितने भी स्मॉल बिजनेस , या  दुकानदार  या और कोई भी व्यापारी जो कि स्वयं का blog चलाते हैं  वह इस बात का अवश्य ध्यान रखें कि उन्हें लोगों से कनेक्शन बनाते हुए चलना है।  

5. अपनी प्रोग्रेस पर ध्यान ना देना | not paying attention towards progress 

अक्सर कई सारे छोटे बिजनेस है और कई सारे ब्लॉगर भी यह गलती करते हैं कि वह अपनी प्रोग्रेस पर ध्यान नहीं देते।  वे लोग लगातार पोस्ट तो करते रहते हैं  लेकिन अपने ब्लॉक  की ग्रोथ पर ध्यान देना भूल जाते हैं  जो कि सबसे जरूरी बात है क्योंकि अगर आप अपने ब्लॉग की प्रोग्रेस पर ध्यान नहीं देंगे तो आपको कैसे पता चलेगा कि आपके व्यूअर  बढ़ रहे हैं या घट रहे हैं या फिर उसने के उतने ही हैं। 

आपको कैसे पता चलेगा कि लोगों का आप का कंटेंट पसंद आ भी रहा है या नहीं यह लोग आप से क्या चाहते हैं कहीं वह आपसे  किसी और चीज के बारे में जानकारी तो नहीं चाह रहे यहां वह आपसे कांटेक्ट नहीं कर पा रहे हैं आप से कनेक्ट नहीं कर पा रहे। 

इसलिए इन सब चीजों पर ध्यान देना बहुत जरूरी है वरना आप तो पोस्ट करते जाएंगे लेकिन आपके ब्लॉग की प्रोग्रेस नहीं हो पाएगी जो कि एक और घातक ब्लॉगिंग मिस्टेक है। 

ब्लॉगिंग की गलतियों को कैसे सुधारें?
ब्लॉगिंग की गलतियों को कैसे सुधारें?

ब्लॉगिंग की गलतियों को कैसे सुधारें?

दोस्तों हमने आपको ऊपर तरह-तरह की ब्लॉगिंग मिस्टेक के बारे में  बताया है हमने आपको मैं ब्लॉकर्स कौन सी ब्लॉगिंग मिस्टेक्स करते हैं उनके बारे में बताया हमने यह बताया आपको कि छोटे व्यापारी कौन-कौन सी ब्लॉगिंग मिस्टेक्स करते हैं इसके अलावा हमने आपको डेंजरस ब्लॉगिंग मिस्टेक के बारे में बताया  और कैसे यह ब्लॉगिंग मिस्टेक आपके ब्लॉग के लिए फेटल ब्लॉगिंग mistakes  में बदल सकती है यह भी बताया। 

अब बारी है कि आप इन गलतियों को कैसे सुधरेंगे। 

अगर आप एक नए ब्लॉगर हैं तो आप इन गलतियों से सबक ले सकते हैं और हर गलती चाहे वह भी beginners  की हो चाहे वह स्मॉल बिजनेसेस की ब्लॉगिंग मिस्टेक्स हो उनका आपको ध्यान से अवलोकन करना चाहिए और उन्हें याद रखना चाहिए कि आपको यह ब्लॉगिंग मिस्टेक बिल्कुल भी, किसी भी हालत में नहीं दोहराने है।

Some Common Blogging Mistakes  

आप ऊपर बताई हुई गलतियों मे से जो भी सबसे common blogging mistakes है जो आपके नए ब्लॉक के लिए घातक घातक गलतियां  साबित हो सकती हैं जैसे कि 

  • अपने ब्लॉग का niche गलत चुन लेना या
  • ब्लॉक का नाम गलत चुन लेना या 
  • अपने व्यूअर के कमेंट का रिप्लाई ना करना या फिर
  • भारी थीम्स का प्रयोग करना या  
  • अपने ब्लॉग को मोनेटाइज ना करना

इन गलतियों का खास ध्यान रखें।  

जब आप इन गलतियों को दोहराएंगे नहीं,  इन सभी गलतियों से सबक लेंगे, तो अपने आप जितने भी blogging mistakes हमने अभी तक ऊपर बताई है उन सब को सुधार सकते हैं और इनमे  इंप्रूवमेंट (improvement) ला सकते हैं और अपने ब्लॉग को की प्रोग्रेस बढ़ा सकते हैं। 

हमें उम्मीद है कि आपको  इन सभी गलतियों से कुछ  ना कुछ तो सीखने को मिलेगा। 

निष्कर्ष about Blogging Mistakes

मुझे उम्मीद है कि आपको हमारा यह आर्टिकल ‘blogging mistakes’ काफी पसंद आया होगा और आपको इसके माध्यम से कई सारी महत्वपूर्ण जानकारी मिली होगी ब्लॉगिंग के बारे में।   

आज के आर्टिकल में हमने जाना blogging mistakes for beginners,blogging mistakes for small business, blogging mistakes  के examples के बारे में भी जाना। 

हमने यह भी जाना कि हम इन सभी blogging galtiyon  को कैसे सुधार सकते हैं। हमने यह भी जाना के नए ब्लॉगर यहां पहले से  स्थापित ब्लॉगर्स कौन-कौन सी worst blogging mistakes  करते हैं। 

हमने इस बारे में भी डिस्कस किया कि कौन सी ब्लॉगिंग मिस्टेक्स (blogging mistakes) हमारे लिए dangerous mistakes साबित हो सकती हैं व हमारे ब्लॉगिंग  कैरियर के लिए भी घातक हो सकती हैं। 

हमने उन mistakes  के बारे में भी जाना जो पोस्ट्स की दुनिया में fatal blogging mistakes  के नाम से जानी जाती है।  

 आपको हमारा आर्टिकल ‘blogging mistakes’ कैसा लगा आप हमें जरूर बताइएगा

अगर आपके इस आर्टिकल ‘blogging mistakes’ को लेकर कोई सवाल या सुझाव है, तो हमें जरूर बताएं हमें आपके कमैंट्स का इंतजार रहेगा। धन्यवाद!

यह भी पढ़ें…

यह पोस्ट आपके लिए कितना उपयोगी है?

निचे स्टार⭐ पर क्लिक कर के अपना रेटिंग दे!

इस पोस्ट की औसत रेटिंग है: 5 / 5. अभी तक कितना लोग वोट किये है: 1130

अभी तक कोई वोट नहीं! सबसे पहले आप वोट कीजिये!

जैसा की आपको यह पोस्ट उपयोगी लगा...

सोशल मीडिया पर, हमारे दोस्त बनिए!

हमें बेहद खेद है की आपको यह पोस्ट पसंद नहीं आया!

इस पोस्ट को और भी बढ़िया बनाने में हमारी सहायता कीजिये!

हमें बताईये, हम इसे कैसे और बढ़िया बनाये!

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.